दीया मिर्ज़ा ने किया चौंकाने वाला खुलासा.. बोली- सैनिटरी नैपकिन नहीं करती हूँ यूज़.!!

Get Daily Updates In Email

बॉलीवुड की मशहूर एक्ट्रेस और अब भारत की ओर से सयुंक्त राष्ट्र पर्यावरण सद्भावना दूत नियुक्त की गई दीया मिर्जा हमेशा से ही पर्यावरण और प्रदूषण को लेकर बातें करती रहती है और अपनी राय भी रखती हैं. इसके अलावा वह शुरुआत के समय से ही पर्यावरण संबंधित कार्यक्रमों में अक्सर हिस्सा लेती रहती हैं. लेकिन हाल ही में सयुंक्त राष्ट्र पर्यावरण सद्भावना दूत नियुक्त किए जाने के बाद उन्होंने बातचित करते हुए एक बड़ा चौंकाने वाला खुलासा किया हैं.

दीया मिर्ज़ा ने बताया कि वह महत्वपूर्ण चीज सैनिटरी नैपकिन का प्रयोग नहीं करती हैं. जी हां! दरअसल एक इवेंट के दौरान दीया ने कहा कि, वह उन सभी चीजों का इस्तेमाल करना बंद कर चुकी हैं, जिससे पर्यावरण को नुकसान हो रहा है.  दीया ने बताया कि, ऐसी ही एक महत्वपूर्ण चीज है सैनिटरी नैपकिन जो पर्यावरण को बेहद तेजी से प्रदूषित कर रही है इसलिए उन्होंने सैनिटरी नैपकिन का इस्तेमाल बंद कर दिया है.

नहीं करती है सैनिटरी नैपकीन के एड..

दीया मिर्जा ने बात करते हुए बताया कि, ‘हमारे देश में स्त्रियों की स्वास्थ्य सुरक्षा के लिए उपलब्ध सैनिटरी नैपकीन और डाइपर बहुत बड़े पैमाने पर पर्यावरण और वातावरण को प्रदूषित कर रहे हैं इसलिए मैं अपने मासिक धर्म के दिनों में सैनिटरी नैपकिन का इस्तेमाल करना बंद कर चुकी हूं. एक एक्टर होने के नाते मेरा यह कहना बहुत बड़ी बात है क्योंकि हम सैनिटरी नैपकिन का प्रचार भी करते हैं. मुझे जब भी कभी सैनिटरी नैपकिन के प्रचार के लिए कोई ऑफर आता भी है तो मैं साफ इनकार कर देती हूं.’

“Sometimes I laugh, Sometimes I cry Sometimes I lose, but I will always try!” #MondayMusings #MotivatedMonday

A post shared by Dia Mirza (@diamirzaofficial) on

दिया ने आगे बात करते हुए कहा कि, ‘अब मैंने सैनिटरी नैपकिन की जगह 100 प्रतिशत प्राकृतिक रूप से नष्ट होने वाले बायोडिग्रेडबल नैपकिन का इस्तेमाल करना शुरू कर दिया है. हमारे देश में सदियों से महिलाएं मासिक धर्म के दिनों में कॉटन का उपयोग करती थीं, लेकिन अब नई तकनीक की वजह से ऐसी चीजें आ गई हैं जो पर्यावरण को किसी भी तरह का कोई नुकसान न पहुंचाए. मैं तमाम लोगों को कहूंगी कि वह पर्यावरण की सुरक्षा के लिए सेहद और वातावरण के लिए सुरक्षित बायोडिग्रेडबल नैपकिन का इस्तेमाल करना शुरू करें.’

Published by Chirag Gupta on 07 Dec 2017

Related Articles

Latest Articles