चार्ली चैपलिन ने ब्लैक एंड व्हाइट दुनिया में भी घोल दिए थे हंसी के रंग, पढ़िए उनके 12 विचार

Get Daily Updates In Email

वो कहते हैं ना कि किसी को रुलाना तो बहुत ही आसान काम है लेकिन किसी को हंसाना दुनिया का सबसे मुश्किल काम होता है. और जो सबको हंसाने का काम कर दे वह वाकई में खास होता है. आज हम एक ऐसे ही शख्स के बारे में बात कर रहे हैं जिसके सामने आने पर रोता हुआ इंसान भी हंसने पर मजबूर हो जाता है. दरअसल हम बात कर रहे हैं हॉलीवुड के मशहूर एक्टर, फिल्ममेकर और हंसी के बादशाह चार्ली चैपलिन के बारे में.

आज चार्ली का जन्मदिन है और इस दिन को सभी फैंस काफी अच्छे से सेलिब्रेट करते हैं. चार्ली चैपलिन के बारे में ऐसा कहा जा सकता है कि उनका स्क्रीन पर होना ही लोगों के लिए मुस्कुराने का एक अहम कारण बन जाता है. वे एक ऐसी कलाकार थे जिन्होंने बिना एक शब्द कहे पूरी दुनिया को हंसाया था. या यूँ कह लें कि इस ब्लैक एंड व्हाइट दुनिया में उन्होंने हंसी के रंग बिखेरने में कोई कसर नहीं छोड़ी.

16 अप्रैल 1889 को लंदन में चार्ली का जन्म हुआ था. वैसे तो हम सभी उन्हें कॉमेडियन और एक्टर के तौर पर जानते हैं, लेकिन आज हम आपको उनके कुछ अच्छे विचार भी बताने जा रहे हैं जो हमें खुशियों से जीने की वजह देते हैं. उनके यही विचार हमें यह भी बताते हैं कि चार्ली एक अच्छे इंसान भी थे.

पढ़िए चार्ली चैपलिन के वे विचार जो वाकई में खास हैं:

1. जिंदगी बेहतरीन हो सकती है यदि लोग आपको अकेला छोड़ दें.

2. दुष्ट दुनिया में कुछ भी स्थायी नहीं होता है, हमारी मुसीबतें भी नहीं.

3. हंसी के बिना बिताया हुआ दिन बर्बाद किया हुआ दिन है.

4. मैं हमेशा बरसात में घूमना पसंद करता हूं ताकि कोई मुझे रोते हुए ना देख पाए.

5. यदि आप केवल मुस्कुराएंगे तो आप पाएंगे की ज़िन्दगी अभी भी मूल्यवान है.

6. मेरा दर्द किसी के हंसने का कारण हो सकता है पर मेरी हंसी कभी भी किसी के दर्द कारण नहीं होनी चाहिए.

7. बिना कुछ करे कल्पना का कोई मतलब नहीं है.

8. आप किसका अर्थ जानना चाहते हैं? ज़िन्दगी इच्छा है, अर्थ नहीं.

9. एक आवारा, एक सज्जन, एक कवि, एक सपने देखने वाला, एक अकेला आदमी, हमेशा रोमांस और रोमांच की उम्मीद करते है.

10. मैंने सोचा कि मैं बैगी पैंट, बड़े जूते, एक छड़ी और एक डर्बी टोपी पहन कर तैयार होऊंगा। सब कुछ उल्टा : पैंट बैगी , कोट तंग, छोटी टोपी और बड़े जूते.

11. इंसानों की नफरत ख़तम हो जाएगी, तानाशाह मर जायेंगे, और जो शक्ति उन्होंने लोगों से छीनी वो लोगों के पास वापस चली जायेगी. और जब तक लोग मरते रहेंगे, स्वतंत्रता कभी ख़त्म नहीं होगी.

12. शीशा मेरा सबसे अच्छा मित्र है क्योंकि जब मै रोता हूं तो वह कभी नहीं हंसता.

Published by Hitesh Songara on 16 Apr 2018

Related Articles

Latest Articles