पीएम मोदी को रूस ने देश के सर्वोच्च सम्मान से नवाज़ा, मोदी का सातवां अंतराष्ट्रीय पुरस्कार

Get Daily Updates In Email

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को रूस ने सर्वोच्च राष्ट्रीय सम्मान ‘ऑर्डर ऑफ सेंट एंड्रयू द एपोस्टले’ सम्मान के लिए नामित किया गया है. यह अवॉर्ड भारत और रूस के बीच द्विपक्षीय संबंधों को प्रोत्साहित करने में उत्कृष्ठ योगदान के लिए इस सम्मान के लिए चुना गया है. रूसी दूतावास के एक अधिकारी ने यह जानकारी दी है. रूस की तरफ से दिए गए इस अवॉर्ड पर राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन का हस्ताक्षर था.

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर दिया जाने वाला यह सातवां सम्मान है. संयुक्त अरब अमीरात की तरफ से सर्वोच्च नागरिक सम्मान दिए जाने के कुछ हफ्ते बाद ही प्रधानमंत्री मोदी का इस सम्मान से नवाजा गया है. गौरतलब है कि मोदी को रूस के इस सम्मान के लिए ऐसे सम्मान से नामित किया गया है. जब कुछ ही समय पहले उन्हें यूएई से ‘द आर्डर ऑफ़ जायेद देने की घोषणा की गई थी .

रूस के एक अधिकारी के अनुसार आर्डर ऑफ़ द सेंट एंड्रू द एपोस्टल विज्ञान, संस्कृति और कला के क्षेत्र में काम करने वाले लोगों, शख्सियतों को रूस की समृद्धि और गौरव को प्रोत्साहित करने के लिए और उनके उत्कृष्ठ कार्यो के लिये प्रदान किया जाता है. इसकी स्थापना रूस से महानतम जार शासक ने वर्ष 1698 में की थी.

हाल के वर्षों में ही इसे गैर रूसी व्यक्तित्वों को देने की परंपरा शुरु की गई थी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से पहले यह सम्‍मान चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग, कजाखस्तान के राष्ट्रपति नजारबायेव और अजरबेजान के राष्ट्रपति हैदर अलीयेव को दिया गया है.

रूस सरकार की तरफ से जारी संक्षिप्त बयान में बताया गया है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को यह सम्मान भारत और रूस के बीच रिश्तों को आगे बनाने के लिए दिया जाएगा. इसके साथ ही और विशेष रणनीतिक साझेदारी को मजबूत बनाने के लिए दिया गया है.

इस साल जनवरी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को प्रतिष्ठित कोटलर अवॉर्ड से सम्मानित किया गया था. पीएम मोदी को उनके उत्कृष्ट नेतृत्व और भारत के प्रति निस्वार्थ सेवा के लिए प्रथम फिलिप कोटलर प्रेसिडेंशियल अवॉर्ड के लिए चुना गया.

Published by Yash Sharma on 13 Apr 2019

Related Articles

Latest Articles