भारत की चुनिन्दा खूबसूरत जगहें जहां फैमिली के साथ जाकर भी कर सकते हैं आप बेहद एन्जॉय

Get Daily Updates In Email

बीते कुछ सालों से लोगों में घूमने का क्रेज इस कदर बढ़ा है कि अब ग्रुप्स और फ्रेंड्स का ट्रेंड भी पीछे हो गया है. लोग बैग पैक कर सोलो ट्रिप पर निकल रहे हैं और इतना ही नहीं वह उस ट्रिप को एन्जॉय भी कर रहे हैं. लेकिन फैमिली संग मौज-मस्ती करने का जो मजा ही कुछ अलग होता है. तो आज हम कुछ ऐसी ही जगहों के बारे में जानेंगे, जहां की खूबसूरती बेमिसाल है और यहां आप अकेले नहीं, बल्कि दादा-दादी, नाना-नानी के साथ अपने प्लान बना सकते हैं.

कलीमपोंग

 

दार्जिलिंग में बसा कलिमपोंग समुद्र से 1250 मीटर की ऊंचाई पर स्थित होने के कारण अपने सुहावने मौसम के लिए जाना जाता है, फैमिली संग छुट्टियां एंजॉय करने के लिए यह जगह बेस्ट है. दार्जिलिंग से कलिमपोंग के रास्ते में हरे-भरे जंगल और चाय के बागान हैं. साथ ही, पहाड़ों और नदियों के रास्ते से होकर सिलीगुड़ी भी घूमा जा सकता है.

पलक्कड़

 

केरल का पलक्कड़ जिले में कदम रखते ही नीलगिरि की पहाडिय़ों का अलग रंग लुभाने लगता है. सड़कों के आसपास खुले खेत दिखने लगते हैं. केरल में हरियाली बहुत है लेकिन हरियाली का यह अनुभव बिल्कुल अलग है. पलक्कड़ को पालघाट के नाम से भी जाना जाता है.

कन्याकुमारी

 

तीन ओर से समुद्र से घिरे तमिलनाडु के कन्याकुमारी का सौंदर्य मन को शीतल एहसास से भर देता है. बीच पर फैली रंग-बिरंगी रेत दूर से ही अपनी ओर खींचती है. कन्याकुमारी को अक्सर धार्मिक स्थल के रूप में मान्यता दी जाती है लेकिन यह शहर आस्था के अलावा कला व संस्कृति का भी प्रतीक रहा है. तीन समुद्रों हिंद महासागर, अरब सागर, बंगाल की खाड़ी के संगम पर स्थित यह शहर ‘एलेक्जेंड्रिया ऑफ ईस्ट’ भी कहा जाता है.

कोडाइकनाल

View this post on Instagram

#kodaiknal#Lake# boating💓

A post shared by D…. YTH (@_hey_itzme) on

 

दक्षिण भारत में ‘पहाड़ों की रानी’ कहे जाने वाले कोडइकनाल पहाड़ी झरने और नयनाभिराम दृश्यों के लिए जाना जाता है. यह तमिलनाडु का प्रसिद्ध हिल स्टेशन है. पहाड़ों के बीच बनी प्राकृतिक झील, पिल्लर रॉक्स, पेरुमल पीक और हर्बल पीक भी देखने लायक हैं.

रामेश्वरम

 

यही वह स्थान है, जहां मर्यादा पुरुषोत्तम राम ने भगवान शिव को प्रसन्न करने के लिए उनकी आराधना की थी. रामनाथस्वामी मंदिर के गर्भगृह में स्थापित शिवलिंग की महिमा निराली है. रामेश्वरम हिंदुओं के चार धामों में से एक है.

Published by Yash Sharma on 24 Aug 2019

Related Articles

Latest Articles