महाराष्ट्र सरकार के 3 लाख चूहे मारने के दावे पर खड़से का आरोप- ‘चूहे मारने के टेंडर में हुआ घोटाला’

Get Daily Updates In Email

हाल ही में महाराष्ट्र विधानसभा से एक नया मुद्दा तुल पकड़ता हुआ नजर आ रहा है. दरअसल यहाँ चूहों को लेकर महाभारत होती नजर आ रही है. इस दौरान महाराष्ट्र के वरिष्ठ भाजपा नेता एकनाथ खड़से ने मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस पर आरोप लगाते हुए कहा है कि उनके द्वारा चूहे मारने के टेंडर में घोटाला किया है. महाराष्ट्र विधानसभा में इसी मुद्दे को लेकर कोहराम मचा हुआ है.

खड़से ने देवेंद्र फडणवीस पर चूहों के टेंडर मामले में आरोप लगाते हुए सवाल किए कि उनकी सरकार के द्वारा आखिर एक हफ्ते यानि महज 7 दिनों में ही 3 लाख 19 हजार चार सौ चूहों को कैसे मार दिया गया. सरकार के द्वारा इतने चूहे मारे जाने का दावा किया गया है और अगर ऐसा है तो इसका मतलब रोजाना नौ टन (करीब 45 हजार) चूहे मारे गए. ऐसे में सवाल यह है कि इतने चूहों को आखिर ठिकाने कैसे और कहाँ लगाया गया है.

courtesy

देवेन्द्र फडणवीस को अपने सवालों के निशाने पर लेते हुए एकनाथ खड़से ने मामले की जाँच किए जाने की मांग भी की है. साथ ही यह भी कहा है कि ऐसा प्रतीत हो रहा है जैसे चूहों के मारने वाले मामले में जारी टेंडर में भी घोटाला किया गया है. उन्होंने कहा कि जिन विभागों के द्वारा भी इस टेंडर को पास किया गया है वे सभी मुख्यमंत्री के अधीन चलने वाले सामान्य प्रशासन विभाग और गृहविभाग के अधीन हैं.

courtesy

इसके साथ ही उनका यह भी कहना है कि जिस कम्पनी को यह टेंडर दिया गया था वह 7 दिनों में ही 3 लाख 19 हजार 4 सौ चूहों को मारने की बात कर रही है. जबकि इस काम को करने के लिए 6 महीने का समय भी काफी कम है. उनका आरोप है कि यह नहीं समझ आ रहा है कि इतने चूहों को मारकर कहाँ ठिकाने लगाया गया है. उनका कहना है कि यह एक बड़ा घोटाला है और इसकी जांच की जाना बहुत जरुरी है.

विधानसभा में जहाँ सभी एकनाथ खड़से के द्वारा लगाए जा रहे आरोपों को सुन रहे थे तो वहीँ पूर्व राजस्व मंत्री ने इस बात पर ठहाका लगाते हुए कहा, सरकार ने एक कंपनी को चूहों को मारने का टेंडर सौपने में खामखा ही पैसा बर्बाद किया, इससे अच्छा तो 10 बिल्लियों को काम पर लगा देते.

Published by Hitesh Songara on 24 Mar 2018

Related Articles

Latest Articles