एक्ट्रेस पत्रलेखा ने बताया- फिल्म ‘लव गेम्स’ को हां कहना उनकी सबसे बड़ी गलती थी

Get Daily Updates In Email

‘सिटीलाइट्स’ और ‘लव गेम्स’ जैसी फिल्मों में नजर आ चुकीं एक्ट्रेस पत्रलेखा शिलॉन्ग के पापा उन्हें सीए बनाना चाहते थे. हाल ही में एक्ट्रेस ने बताया कि, ‘यह सच है कि मेरे पापा चाहते थे कि मैं भी उनकी तरह सीए बनूं, लेकिन फिल्मों का चस्का मुझे बचपन से था. हमारे घर में फिल्मी माहौल हमेशा से रहा है. हम लोग बंगाली हैं. फिल्में देखना मेरी मां और डैड दोनों का पसंदीदा शौक है. इसीलिए, मैं भी बचपन से फिल्में देखती आ रही हूं. तब कहीं न कहीं लगता था कि मुझे भी एक्टिंग करनी है.’

उन्होंने यह भी कहा कि, ‘हालांकि जब मैं बोर्डिंग स्कूल गई, तब मेरा झुकाव पढ़ाई की तरफ हो गया था. स्कूल में हम लोग थिएटर करते थे, तब एक्टर बनने की चाह जागती थी. हालांकि, जब मैं मुंबई आई तब यही सोचा था कि मैं सीए बनूंगी, लेकिन अंदर कहीं एक्टिंग का कीड़ा कुलबुलाता रहता था. फिर, धीरे-धीरे रास्ता बनता चला गया.’

अपने करियर की शुरुआत की यादें शेयर करते हुए एक्ट्रेस ने कहा, ‘मेरा एक क्लासमेट पार्ट-टाइम कास्टिंग डायरेक्टर था. ऐसे ही एक बार बातचीत के दौरान मैंने उससे कहा कि मुझे भी एक्टिंग करनी है. तब उसके कहा कि ठीक है. तुम अपनी फोटोज खिंचवा लो. उसने कुछ को-ऑर्डिनेटर्स के नंबर दिए. इसी बीच वह मेरे लिए एक ऐड फिल्म लेकर आया, जिसके लिए मुझे 5 हजार रुपए मिले थे. उस समय यह मेरे लिए बड़ी बात थी. इसके बाद और ऑडिशंस के लिए कॉल आते गए. फिर मुझे फिल्मों के कॉल आना शुरू हो गए, लेकिन फिल्म का ऑडिशन और ऐड का ऑडिशन बहुत अलग होता है. फिल्म की एक्टिंग अलग होती है, इसलिए मैंने पहले कुछ एक्टिंग कोर्स किए. बैरी जॉन के एक्टिंग स्कूल में गई. फिर दो-तीन और वर्कशॉप्स में गई. उसके बाद फिल्मों में आई.’

🧚🏼‍♀️🧚🏼‍♀️🧚🏼‍♀️

A post shared by Patralekhaa (@patralekhaa) on

एक्ट्रेस आखिरी बार फिल्म ‘लव गेम्स’ में नजर आईं थीं. इस फिल्म में उन्होंने बहुत ही बोल्ड किरदार निभाया था लेकिन यह फिल्म दर्शकों को बिलकुल पसंद नहीं आई. जिसे लेकर खुद पत्रलेखा मानती हैं कि उन्हें वह फिल्म नहीं करनी चाहिए थी. एक्ट्रेस के अनुसार, ‘वह एक गलत फैसला था. मेरे लिए वह फिल्म सही नहीं थी. उसे करते वक्त मैं सहज भी नहीं थी. मैं मानती हूं कि ‘लव गेम्स’ करना मेरी गलती थी. इसके लिए मैं किसी और को दोष नहीं देती हूं. मुझे उस स्क्रिप्ट को हां ही नहीं बोलना चाहिए था, लेकिन अब जो है, सो है. वह फिल्म मैं कर चुकी हूं. वह मेरी सच्चाई है. अब उससे आगे बढ़ते हैं.’

एक्ट्रेस अब ‘नानू की जानू’ में नजर आने वाली हैं. फिल्म को हां करने के कारणों को लेकर जब पत्रलेखा से सवाल किए गए तो उन्होंने जवाब दिया, ‘यह बहुत ही प्यारी और मजेदार सी कहानी है. मैंने ऐसी कॉमिडी वाली फिल्म नहीं की है. मैंने हमेशा ड्रामा किया है, तो मुझे स्क्रिप्ट बहुत अच्छी लगी है. मेरे डायरेक्टर फराज बड़े प्यारे हैं. इसके अलावा, मुझे अभय के साथ काम करने का मौका मिल रहा था. मुझे अभय का काम बहुत पसंद है. उन्होंने बहुत ही रियलिस्टिक किरदार निभाए हैं. मैंने जब ‘देव डी’ देखी थी, तभी सोचा था कि इस एक्टर के साथ तो एक बार काम करना है इसीलिए, यह सब सोचकर मैंने इस फिल्म के लिए हां कह दिया.’

एक्ट्रेस फिल्म के ट्रेलर में बहुत कम नजर आ रही हैं. इस पर वह कहती हैं, ‘हां, मैं ट्रेलर में नहीं दिखी हूं. मैंने जब ट्रेलर देखा, तो खुद हैरान रह गई. फिर डायरेक्टर ने मुझे समझाया कि जो मेरा रोल है, वह फिल्म के प्लॉट पॉइंट्स पर आता है. अगर उसे ट्रेलर में दिखा देंगे, तो फिल्म की कहानी पता चल जाती और वह नहीं चाहते थे कि कहानी पहले ही पता चले.’

Me n my lil one❣️ @parnalekha9 #nofilterneeded

A post shared by Patralekhaa (@patralekhaa) on

फिल्म ‘सिटीलाइट्स’ में भी पत्रलेखा ने अपनी एक्टिंग का प्रदर्शन किया था लेकिन इसका भी उन्हें कुछ फायदा नहीं मिला. इस पर एक्ट्रेस के कहा, ‘मेरे पास अच्छी स्क्रिप्ट्स नहीं आईं और कुछ भी करने का मेरा मन नहीं था.’ एक्ट्रेस कहती हैं, ‘मुझे लगता है कि ज्यादा लोगों ने वह फिल्म देखी ही नहीं. मुझे और कोई वजह तो समझ नहीं आती.’

Published by Chanchala Verma on 07 Apr 2018

Related Articles

Latest Articles