जापान बस ड्राइवर्स ने अपनाया हड़ताल का अनोखा तरीका, पैसेंजर्स को दे रहे फ्री राइड

Get Daily Updates In Email

जापान में अभी बस ड्राइवर्स की हड़ताल चल रही है लेकिन इस हड़ताल से आम आदमी को किसी भी तरह की कोई परेशानी से नहीं गुजरना पड़ रहा है क्योंकि ड्राइवर्स का हड़ताल करने का तरीका थोडा अलग है. उन्होंने इस हड़ताल में किसी भी तरह का कोई चक्काजाम या कोई बस नहीं रोकी है. बल्कि इस हड़ताल के दौरान वे किसी भी पैसेंजर से कोई किराया नहीं ले रहे हैं. जिससे ऐसे किसी भी शख्स को कोई दिक्कत नहीं हो रही जो अपने आने-जाने के लिए बस पर ही निर्भर हो. बस ड्राइवर्स ने ऐसा इसलिए किया ताकि पैसेंजर्स को कोई दिक्कत न हो.

courtesy

इस हड़ताल से सिर्फ प्रसाशन को ही नुकसान होगा . हड़ताल को लेकर ड्राइवर्स का कहना है ‘यह अलग तरह का हड़ताल है. अगर हम बसें नहीं चलाने का फैसला लेते तो नुकसान जनता का होता. हम जिनका विरोध कर रहे हैं उन्हें कोई फर्क नहीं पड़ता. आगे चल कर मैनेजमेंट यह भी कह सकता है कि ड्राइवर्स को सिर्फ अपनी चिंता है आम जनता की नहीं. इसलिए हमने बसों में पैसेंजर्स से पैसा न लेने का फैसला किया.’ ड्राइवर्स के इस हड़ताल को फ्री राइड स्ट्राइक नाम दिया है.

courtesy

यह हड़ताल पब्लिक ट्रांसपोर्ट की बड़ी कंपनी रयोबी बस सर्विस ने किया है. दरअसल यह हड़ताल इसलिए की रही है क्योंकि एक महीने पहले ही प्रशासन ने रयोबी बस सर्विस के रूट पर मेगुरिन को अपनी बसें चलाने का लाइसेंस दे दिया था. वहीं रयोबी ने मैनेजमेंट एडमिनिस्ट्रेशन से मेगुरिन के रूट बदलने की अपील भी की थी. पर इस पर कोई सुनवाई नहीं की गई. ऐसे में रयोबी ने हड़ताल करने का फैसला किया. रयोबी का कहना है, ‘हमारे ड्राइवर डरे हुए हैं. उन्होंने मैनेजमेंट से उनके जॉब की सिक्योरिटी को लेकर कोई इंतेजाम करने को कहा था लेकिन उनकी तरफ से कोई संतोषजनक प्रतिक्रिया नहीं आई है.’

1944 में पहली बार अमेरिका ने इस तरह का हड़ताल रखा गया था..

courtesy

फ्री राइड स्ट्राइक का यह तरीका पहली बार 74 साल पहले अमेरिका में अपनाया गया था. 1944 में पैसेंजर्स को इस तरह फ्री-राइड देकर इस तरह का हड़ताल की थी. पिछले साल सिडनी और ब्रिसबेन में इस तरह हड़ताल शुरू की गई थी. सिडनी में बस ड्राइवर्स ने मजदूरी के मुद्दे को लेकर ‘फेयर फ्री डेज’ की शुरुआत की थी.

Published by admin on 05 May 2018

Related Articles

Latest Articles