हमें पूरे विश्व में लघु कान्स फिल्म फेस्टिवल आयोजित करने चाहिए : प्रसून जोशी

Get Daily Updates In Email

इस साल का कान्स फिल्म फेस्टिवल फ्रांस में आयोजित किया जा चुका है. कान्स में भारत की तरफ से बॉलीवुड एक्ट्रेस दीपिका पादुकोण, कंगना रनौत और हुमा कुरैशी जैसी एक्ट्रेसेस पहुँच चुकी हैं. इस दौरान फ्रांस में भारत के राजदूत विनय मोहन क्वात्रा ने कहा कि, भारत में इस समय प्रौद्योगिकी और अर्थव्यवस्था में असाधारण परिवर्तन हो रहे हैं और इस प्रगति को भारतीय सिनेमा में प्रदर्शित किया गया है.

Courtesy

एक्टर शरद केलकर की मेजबानी में भारतीय प्रतिनिधिमंडल में फ्रांस में भारत के राजदूत विनय मोहन क्वात्रा, सूचना और प्रसारण मंत्रालय में संयुक्त सचिव अशोक कुमार परमार, लेखक, कवि और केन्द्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड के अध्यक्ष प्रसून जोशी, केन्द्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड की सदस्य वाणी त्रिपाठी टिक्कू, निर्माता और निर्देशक, मार्च दू फिल्म महोत्सव, कान फिल्म मार्केट के कार्यकारी निदेशक जेरोम पैलार्ड, फिल्म अभिनेत्री हुमा कुरैशी, फिल्म निर्माता शाजी करून, जानू बरुआ, भरत बाला भी शामिल हुए थे. भारत और फ्रांस के सिनेमा के बीच समन्वय के बारे में बात करते हुए वाणी त्रिपाठी टिक्कू ने कहा कि, भारत के कान फिल्म महोत्सव और फ्रांस के फिल्म उद्योग के साथ बहुत अच्छे संबंध हैं. उन्होंने कहा कि, हाल ही तमाशा और बेफिक्रे जैसी फिल्मों की शूटिंग इस क्षेत्र में की गई थी और इनके कथानक में भी दोनों देशों के बीच की समानता नजर आई थी.

Courtesy

महोत्सव के उद्घाटन संबोधन में प्रसून जोशी ने कहा, “हमें ऐसे युवा फिल्मकारों तक पहुंच बनानी चाहिए जो कान जैसे फिल्मोत्सवों में नहीं पहुंच पाते हैं. हमें अधिक से अधिक फिल्म निर्माताओं की मदद के लिए पूरे विश्व में लघु कान्स फिल्म फेस्टिवल आयोजित करने चाहिए.” भारत और फ्रांस के बीच सह-निर्माण के अवसरों का पता लगाने के लिए भारतीय प्रतिनिधिमंडल की यूनीफ्रांस की महानिदेशक ईसाबेल जिओदानो, अंतर्राष्ट्रीय विभाग, सीएनसी, फ्रांस के निदेशक एम लोईक वोंग, फिल्म फ्रांस की सीईओ वैलेरी एल एपिन-कर्निक के साथ बैठक हुई.

Courtesy

इस महोत्सव के दौरान ब्राजील, फिलीपींस, ऑस्ट्रिया, नॉर्वे, स्वीडन, ताईवान, कनाडा और न्यूजीलैंड के साथ भी सहयोग के अवसर तलाशने को लेकर बातचीत की गई.

Published by Chanchala Verma on 12 May 2018

Related Articles

Latest Articles