किसी इंस्पायरिंग जर्नी से कम नहीं है बॉलीवुड कॉमेडियन जॉनी लीवर की लाइफ

Get Daily Updates In Email

जॉनी लीवर बॉलीवुड और टेलीविज़न इंडस्ट्री के सबसे मशहूर कॉमेडी एक्टर्स में से एक हैं. हम सभी इनके बारे में यह तो जानते हैं कि बहुत अच्छे एक्टर-कॉमेडियन और मिमिक आर्टिस्ट हैं लेकिन शायद यह बहुत कम लोग जानते हैं कि इन्होंने जीवन में कितने संघर्ष किए हैं. जॉनी लीवर का जन्म 14 अगस्त 1957 को आँध्रप्रदेश की डिस्ट्रिक्ट प्रकाशम में हुआ था. वह एक तेलुगू क्रिस्चियन परिवार में जन्मे थे. उनके परिवार की आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं थी. जिस कारण वो अपनी स्कूलिंग भी पूरी नहीं कर पाए थे. उन्होंने जल्द ही पिता के साथ कंपनी HUL में काम करना शुरू कर दिया था और जब भी कंपनी में काम से थोड़ा फ्री होते, तो वो अपने साथियों को बॉलीवुड स्टार्स की नक़ल कर बताते थे.

#ThisisLove #parents #happiness

A post shared by Jamie Lever (@its_jamielever) on

साल 1982 में जॉनी लिवर को बिग बी के साथ काम करने का मौका मिला और उसी दौरान उन्हें बॉलीवुड के दिग्गज कलाकार सुनील दत्त ने नोटिस किया था और सुनील दत्त ने उन्हें फिल्म ‘दर्द का रिश्ता’ ऑफर की. लेकिन तब तक जॉनी विज्ञापनों से अपनी पहचान बना चुके थे.

मीडिया प्रोफेशन :-

बॉलीवुड में जॉनी की पहली फिल्म ‘तुम पर हम कुर्बान’ थी और इसके बाद इन्होंने अपना अभिनय का हुनर फिल्म ‘दर्द का रिश्ता’ में दिखाया. अब तक इन्होंने 350 से ज्यादा फ़िल्मों में काम किया है. यह टीवी के कॉमेडी शो के भी जज भी रह चुके हैं और साथ ही कई टीवी शोज में काम भी कर चुके हैं. हाल ही में यह चैनल सोनी सब के शो ‘पार्टनर्स- ट्रबल हो गयी है डबल’ में नज़र आए थे.

courtesy

पर्सनल लाइफ :- 

जॉनी लीवर की पत्नी का नाम सुजाता है. इनके दो बच्चे हैं बेटी का नाम जेमी है और बेटे का नाम जेसी हैं. जेमी भी एक स्टैंड-अप कॉमेडियन बन गई हैं और साथ ही वो कई टेलीविज़न शोज में भी नज़र आ चुकी हैं. जॉनी लीवर सिर्फ एक फेमस स्टार ही नहीं हैं बल्कि वो एक अच्छे इंसान भी हैं. दुनिया में सभी इन्हे बहुत पसंद करते हैं.

ज़िंदगी का सबसे बड़ा बदलाव :-

जॉनी लीवर के बेटे जेसी को कैंसर हो गया था और इस बात ने जॉनी लीवर को बहुत परेशान कर दिया था और जॉनी की लाइफ को बदल दिया था और साथ ही उनका भगवान पर विश्वास भी बढ़ा दिया.

जब इस बारें में उनसे बात कि तो उन्होंने बताया कि ‘यह तो भगवान की इच्छा थी. मैं शुरू से ही भगवान को बहुत मानता था, लेकिन इस एक इंसिडेंट ने मेरी पूरी लाइफ बदल दी. मेरे बेटे को कैंसर हो गया था. मैं लाचार था, मैंने भगवान से मदद मांगी थी. इसी बीच मैंने फिल्मों में काम करना बंद कर दिया था बस दिन-रात भगवान से उसके लिए प्रार्थना करता था. फिर जब दस दिन बाद हम उसका टेस्ट करवाने गए तो डॉक्टर भी उसकी रिपोर्ट्स को देखकर हैरान रह गए थे कि उसे अब कैंसर नहीं था. यहीं मेरी नई ज़िंदगी की शुरुआत थी.

जॉनी लीवर की लाइफ ने हमे बहुत बड़ी सीख दी है. हम प्रार्थना करते हैं जॉनी को ज़िंदगी में बहुत खुशियां और सफलता मिलें.

Published by admin on 13 May 2018

Related Articles

Latest Articles