एचडी कुमारस्वामी बने कर्नाटक के नए मुख्यमंत्री, शपथ ग्रहण समारोह में शामिल हुए कईं बड़े नेता

Get Daily Updates In Email

कर्नाटक विधानसभा चुनाव 2018 के परिणाम आने के बाद से ही यहाँ राजनीतिक उथलपुथल देखने को मिली है. इन सबके बीच आज यहाँ जेडीएस (जनता दल सेक्युलर) के नेता एचडी कुमारस्वामी ने कर्नाटक के नए मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली है. शपथ ग्रहण समारोह के दौरान कई बड़े नेताओं को शिरकत करते हुए देखा गया. कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गांधी और सोनिया गांधी भी समारोह का हिस्सा बने. इसके साथ ही कई गैर बीजेपी शासित राज्यों के मुख्यमंत्री और क्षेत्रीय दलों के प्रमुख भी शामिल हुए.

courtesy

इस दौरान शपथ ग्रहण समारोह में एक लाख लोगों के बैठने का इंतजाम किया गया था. समारोह में हिस्सा लेने वालों की लिस्ट में समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव, एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार और सीपीआईएम महासचिव सीताराम येचुरी भी शामिल रहे. इनके अलावा आंध्रप्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडु और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी भी यहाँ पहुंचे. शिवसेना के अध्यक्ष उद्धव ठाकरे को भी शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने का निमंत्रण दिया गया था लेकिन उन्होंने इसके लिए इनकार कर दिया.

courtesy

गौरतलब है कि 17 मई को राजभवन में बीएस येदियुरप्पा को कर्नाटक के मुख्यमंत्री पद और गोपनीयता की शपथ ली थी, जिसके बाद उन्होंने फ्लोर टेस्ट के पहले ही इमोशनल भाषण के साथ इस्तीफा दे दिया था. फ्लोर टेस्ट में कांग्रेस और जेडीएस के गठबंधन को बहुमत हासिल हुआ और आपसी सहमती से जेडीएस की सरकार बनी.

courtesy

कर्नाटक विधानसभा चुनाव 2018 के अंतर्गत 224 सदस्यीय विधानसभा की 222 सीटों पर 12 मई को 72.13 फीसदी मतदान हुआ था. जिसमें बीजेपी को 104, कांग्रेस को 78, जेडीएस को 38 और अन्य को 2 सीटें प्राप्त हुई थीं. बीजेपी को इलेक्शन के दौरान सबसे अधिक सीटें मिली लेकिन इसके बावजूद भी वह बहुमत स्थापित करने से 8 सीट दूर रही.

मालूम हो कि वर्ष 2004 में जेडीएस और कांग्रेस के गठबंधन की सरकार बनी थी और इस दौरान कांग्रेस के धरम सिंह को सीएम बनाया गया था. लेकिन वर्ष 2006 में यह गठबंधन टूट गया और जेडीएस ने बीजेपी के साथ गठबंधन किया था. इसके बाद समझौते के अंतर्गत कुमारस्वामी को जनवरी 2006 में सीएम बनाया गया था लेकिन अगले ही साल कुमारस्वामी ने बीजेपी से किनारा कर लिया और अपना इस्तीफा राज्यपाल को सौंप दिया. जिसके बाद यहाँ राष्ट्रपति शासन लागू हुआ था.

Published by Hitesh Songara on 23 May 2018

Related Articles

Latest Articles