परमाणु में जॉन का पसंदीदा डायलॉग है, ‘अब हम डरकर चुप नहीं बैठेंगे, बल्कि करके चुप बैठेंगे’

Get Daily Updates In Email

कल यानि 25 मई को रिलीज़ होने वाली फिल्म ‘परमाणु- द स्टोरी ऑफ़ पोखरण’ का लोग बेसब्री से इंतज़ार कर रहे हैं. जॉन अब्राहम के साथ ही फिल्म में डायना पेंटी भी मुख्य भूमिका में नज़र आने वाली हैं. वहीं फिल्म के निर्देशक अभिषेक शर्मा हैं.

Courtesy 

जैसा की हम सब जानते हैं जॉन अब्राहम काफी फिटनेस फ्रिक हैं. हाल ही में दिए एक इंटरव्यू के दौरान उन्होंने बताया कि,’यदि आप अपनी हथेली को आधा कर दे तो इसमें आधा प्रोटीन होता है और नीचे का आधा फैट या फ़्राईड फ़ूड होता है.’ उन्होंने कहा कि डायना भी काफी फिट हैं. लेकिन फिर भी उन्हें बदलाव की जरुरत है. वो कुछ भी खा लेती हैं. बर्गर और पिज़्ज़ा कुछ भी. उन्हें इन सब चीजों पर ध्यान देना चाहिए.

Courtesy

इसी दौरान जॉन से फिल्म का बेस्ट डायलॉग भी पूछा गया जिसपर उनका कहना था कि, ‘अब हम डरकर चुप नहीं बैठेंगे, बल्कि करके चुप बैठेंगे’. अभिषेक ने जिस तरह इसे कॉन्सेप्चुलाइस किया हैं. वो अविश्वनीय है.

Courtesy 

बॉलीवुड एक्टर जॉन अब्राहम यह भी साफ़ कर चुके हैं कि,’ लोग मुझे कहते हैं कि मैंने मद्रास कैफे बनाकर कांग्रेस पार्टी का सपोर्ट किया है और अब लोग कह रहे हैं कि फिल्म परमाणु के लिए मैं भाजपा को सपोर्ट कर रहा हूँ लेकिन मैं यह साफ़ कर देना चाहता हूँ कि राजनैतिक रूप से मैं किसी की भी तरफदारी नहीं करता हूँ. मैं बस अटल बिहारी बाजपाई का सम्मान करता हूँ कि उन्होंने पोखरण परिक्षण को हरी झंडी दिखाई थी.’

Courtesy 

आगे जॉन कहते हैं कि, ‘परमाणु मेरे बच्चे की तरह है. जिसे मैं 25 मई को जन्म देने वाला हूँ. मैंने इस बच्ची की कस्टडी के लिए लड़ाई की है और मुझे इस पर गर्व है. शूटिंग के लास्ट डे मुझे बहुत ख़ुशी हुई थी कि हमने इतना कठिन शूट पूरा कर लिया है. मैं फिल्म की कास्ट एंड क्रू को धन्यवाद कहना चाहूंगा.’

Published by admin on 24 May 2018

Related Articles

Latest Articles