SBI की ATM मशीन में दिखाई दिया चूहों का आतंक, कुतरे 12 लाख रुपए के नोट्स

Get Daily Updates In Email

आपने अपने घरों में चूहों का आतंक तो देखा ही होगा. लेकिन आज हम आपको चूहों के ऐसे आतंक के बारे में बताने जा रहे हैं. जिसे सुनकर आप हैरान रह जाएंगे. अगर आपसे कोई कहे कि चूहों ने 12 लाख रुपए के नोट कुतर दिए तो आप यही कहेंगे कि ऐसा भले कैसे हो सकता है.

Courtesy

लेकिन यह सच है. दरअसल यह घटना है असम के तिनसुकिया के स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया के एक एटीएम की. जहां चूहों ने 12 लाख रुपए के नोट्स कुतर डाले. रिपोर्ट्स के अनुसार यह मामला 11 जून का है. इस मामले की जानकारी उस समय हुई जब इस पूरी घटना के फोटोज सोशल साइट्स पर वायरल होने लगे.

Mice chew through cash worth lakhs of rupees in an #ATM in #Tinsukia, #Assam In a rare incident, an amount to the tune of Rs 12.38 lakh were found destroyed inside an Automatic Teller Machine (ATM) belonging to SBI at #Basbari in #Tinsukia. The notes, in denomination of RS 2000 and RS 500, were chewed by rats. According to officials, on May 19, notes amounting to Rs 29.48 lakh were deposited inside the ATM by a private security company but after that, the ATM went out of service from May 20. Following this, on June 11 the company opened the ATM for maintenance but they found that cash amounting to Rs 12.38 lakh were completely destroyed. These notes were in Rs 500 and Rs 2000 currency notes. It has been suspected that all these notes were chewed through by mice which somehow managed to get inside the machine. However, notes amounting to Rs 17.10 lakh were recovered without any damage. Bank officials informed that the amount is an estimated amount but they are still investigating the complete issue. Rishu Kalantri #THETELEGRAPH

A post shared by The Time's of Sikkim (@a_time_of_changes) on

मिली जानकारी के अनुसार, तिकसुकिया के एसबीआई की एटीएम मशीन के बंद होने की शिकायत आई. जिसके बाद कर्मचारी मशीन को ठीक करने पहुंचे. कर्मचारियों ने जब मशीन खोली तब सभी हैरान रह गए. वहां मौजूद लोगों ने देखा कि 500 और 2000 के नोटों को मशीन में घुसकर चूहों ने कुतर दिया है.

इस घटना के बाद बैंक अधिकारी ने बताया कि तिनसुकिया के लैपुली इलाके का एटीएम 20 मई से तकनीकी खराबी के कारण बंद था. शिकायत मिलने पर 11 जून को एटीएम का रखरखाव करने वाली कंपनी ग्लोबल बिजनेस साल्यूशंस (जीबीएस) के कर्मचारी मशीन ठीक करने पहुंचे थे. तब यह घटना सामने आई.

Courtesy

घटना की पुष्टि करते हुए बैंक अधिकारी ने कहा कि 12 लाख 38 हजार के नोटों को चूहे कुतर गए हैं. केवल 17 लाख कीमत के नोट बच पाए हैं. जीबीएस ने 19 मई को मशीन में 20 लाख रुपए डाले थे. अगले दिन से ही एटीएम ने काम करना बंद कर दिया था.

Courtesy

इस घटना की जांच के लिए एफआईआर भी दर्ज कराई जा चुकी है. इस घटना को लेकर लोगों का कहना है कि 20 मई को एटीएम बंद हुआ और करीब एक महीने बाद मैकेनिक मशीन ठीक करने पहुंचे.

Published by Chanchala Verma on 19 Jun 2018

Related Articles

Latest Articles