बर्थडे स्पेशल: कभी सचिन से गले लगकर रोए तो कभी एंड्रयू को कह दिया मंकी, कुछ ऐसी है भज्जी की कहानी

Get Daily Updates In Email

भारतीय क्रिकेट टीम के सबसे पॉपुलर स्पिनरों में से एक हरभजन सिंह आज अपना 38वां बर्थडे मना रहे हैं. हरभजन सिंह का जन्म आज ही के दिन यानि 3 जुलाई 1980 को जालंधर में हुआ था. हरभजन सिंह को अपने घुमावदार घातक गेंदबाजी के लिए जाना जाता है पर अपने खेल के लिए अलावा हरभजन और भी कई विवादों के कारण चर्चा में रहते हैं. कभी वो मैदान पर खिलाड़ी से भिड़ लेते हैं तो कभी सबके सामने श्रीसंत को थप्पड़ मार देते हैं तो काफी मैदान पर वो सचिन तेंदुलकर से गले लगकर रोने लगते हैं.

कुछ भी बोलो हरभजन सिंह के जैसा खिलाड़ी भारत को दोबारा मिलना नामुमकिन है. क्रिकेट के इतिहास में भज्जी ने कई ऐसी पारियां खेली हैं जिन्हें शायद की कोई खेल पाएगा. भज्जी के ‘दूसरा’ के कमाल से टीम इंडिया ने कई मैच जीते है. आज हम हरभजन सिंह के बर्थडे के मौके पर उनसे जुड़े कुछ विवादों के बारे में जानेंगे.

श्रीसंत को थप्पड़ जड़ना :

courtesy

हरभजन सिंह अपने गुस्से के लिए भी जाने-जाते हैं. ऐसा एक किस्सा है जब हरभजन अपने गुस्से पर काबू नहीं रख पाए और भरे मैदान में श्रीसंत को थपपड़ ज़ड़ दिया था. यह किस्सा साल 2008 का है जब आईपीएल मैच के दौरान उन्होंने पंजाब के प्लेयर श्रीसंत को एक झापड़ रसीद कर दिया था. हालांकि इस विवाद के कारण भज्जी को 11 मैचों का प्रतिबंध और एक मैच की फीस का जुर्माना भरना पड़ा था.

लॉन्ग टाइम अफेयर :

courtesy

हरभजन अपने रिलेशनशिप को लेकर काफी लम्बे समय से चर्चा में रहे थे. 8 साल के लम्बे अफेयर के बाद हरभजन ने 2015 में गीता बसरा से शादी की थी. हरभजन ने शादी से पहले मीडिया के सामने अपने रिलेशनशिप को लेकर कभी नहीं कबूला था.

एन्ड्रयू सायमंड्स को ‘मंकी’ कहना :

courtesy

जनवरी 2008 में सायमंड्स ने भज्जी पर नस्लीय कमेंट करने का आरोप लगाया था. उनका आरोप था कि हरभजन ने उन्हें मैच के दौरान बंदर कहा है. वहीं विवाद काफी आगे बढ़ा था, आईसीसी ने भज्जी को आगे खेलने के लिए बैन कर दिया था. हालांकि आगे चल कर मामला सुलझ गया.

‘चकर’ कहे गए :

courtesy

भज्जी ने जब इंटरनेशनल क्रिकेट में डेब्यू किया था तो उनकी गेंदबाजी करने के ढंग पर कुछ अंपायरों को सवाल उठाया था. उन्हें लगा था कि यह गलत ढंग से बॉलिंग करते हैं और यह चकर हैं. हालांकि बाद में आईसीसी की ओर से भज्जी को क्लीन चिट दे दिया गया था. वहीं जिसके बाद भज्जी ने अपनी आलोचना करने वाले अंपायरों को ही चकर कह डाला था.

Published by admin on 03 Jul 2018

Related Articles

Latest Articles