वांगचुक और वटवाणी को मिलेगा एशिया का नोबल प्राइज कहा जाने वाला रमन मैग्सेसे पुरस्कार

Get Daily Updates In Email

एशिया का नोबल प्राइज कहे जाने वाले रमन मैग्सेसे पुरस्कार के लिए इस बार दो भारतीय नागरिकों का नाम भी सामने आया है. इस बार भारत से भरत वटवाणी और सोनम वांगचुक का नाम रमन मैग्सेसे पुरस्कार के विजेताओं की लिस्ट में सामने आया है. भरत वटवाणी के बारे में जानकारी दें तो बता दें कि वे एक मानसिक रोग चिकित्सक हैं. भरत फ़िलहाल मानसिक रूप से बीमार और बेसहारा लोगों के लिए काम करते हैं.

जबकि साथ ही सोनम वांगचुक को आर्थिक प्रगति के लिए विज्ञान और संस्कृति का इस्तेमाल करने की पहल के लिए जिससे लद्दाखी युवकों के जीवन में सुधार किया गया है उसके लिए यह पुरस्कार दिया जाना है. बता दें कि सोनम वांगचुक के द्वारा शिक्षा, संस्कृति और पर्यावरण के माध्यम से सामुदायिक प्रगति के लिए शानदार काम किया गया है.

इसके चलते ही वे जल्द ही एशिया के नोबल प्राइज यानि मैग्सेसे अवार्ड से सम्मानित किए जाएंगे. वांगचुक वही व्यक्ति हैं जिनके किरदार को बॉलीवुड एक्टर आमिर खान ने फिल्म ‘3 इडियट्स’ में निभाया था.

भरत वाटनानी के बारे में अधिक जानकारी दें तो वे मानसिक रूप से बीमार लोगों के साथ ही गरीब व्यक्तियों को भी उनके परिवार से मिलवाने का काम करते हैं. उन्हें इस तरह के नेक कार्य को हमेशा से तवज्जो दी है और इसलिए उन्हें इस अवार्ड से सम्मानित किया जाएगा.

क्या है मैग्सेसे अवार्ड : जानकारी दे दें कि इस अवर्स की शुरुआत 1957 में हुई थी. दरअसल उस दौरान फिलीपींस के राष्ट्रपति की एक प्लेन क्रैश में मौत हो गई थी और इसके बाद ही इस अवार्ड की शुरुआत की गई थी.

इस बार यह अवार्ड समारोह 31 अगस्त को मनीला में आयोजित किया जाने वाला है. यहाँ इन दो भारतीयों के अलावा कंबोडिया में हुए नरसंहार में खुद को बचाने वाले व्यक्ति का नाम भी इस लिस्ट में शामिल है.

Published by Hitesh Songara on 27 Jul 2018

Related Articles

Latest Articles