DL और RC जैसे जरुरी दस्तावेजों को रखने की परेशानी से छुटकारा, सरकार ने शुरू की ‘DIGILocker’ की सुविधा

Get Daily Updates In Email

भारत सरकार ने नागरिकों की सुविधा को देखते हुए ड्राइविंग लाइसेंस और वाहन पंजीकरण सर्टिफिकेट को अपने साथ रखने की परेशानी को खत्म कर दिया है. सरकार ने इस तरह के सभी दस्तावेजों को रखने के लिए डिजिलॉकर (DIGI Locker) नाम के एक एप की शुरुआत की है. जिसमें कोई भी व्यक्ति अपने सारे जरुरी दस्तावेजों को संभाल कर रख सकता है. भारत सरकार ने सभी राज्यों को भी सलाह दी है कि वे भी इसी तरह की सुविधा अपने राज्यों में भी लागू कर दें.

आधिकारिक बयान में कहा गया है कि, ‘मंत्रालय को कई शिकायतें/आरटीआई आवेदन मिले हैं कि जहां नागरिकों ने शिकायत की है कि डिजिलॉकर या एमपरिवहन एप में उपलब्ध दस्तावेजों को ट्रैफिक पुलिस या मोटर वाहन विभाग द्वारा वैध दस्तावेज के रूप में स्वीकार नहीं किया जा रहा है.’

courtesy

सरकारी वेबसाइट (digilocker.gov.in) के मुताबिक, यह एक क्लाउड आधारित प्लेटफॉर्म है जहां आप दस्तावेजों और सर्टिफिकेट्स को डिजिटल फॉर्म में स्टोर, शेयर और वेरिफाई कर सकते हैं. सरकार ने यह ऑनलाइन सुविधा पिछले साल शुरू की थी. इसका मकसद निजी और सरकारी दस्तावेजों को सुरक्षित रखने के लिए एक सुरक्षित जगह प्रदान करना था. इसका इस्तेमाल कर अपने डाक्यूमेंट्स की हार्ड कॉपी अपने साथ रखने से बच सकते हैं और जरूरत पड़ने पर जहां संभव हो सकेगा, इसमें लॉग इन दस्तावेज का प्रिंट आउट लेकर यूज कर सकते हैं.

courtesy

डिजिलॉकर में दस्तावेज सुरक्षित करने के लिए पहले साइनअप/रजिस्टर करना होगा. इसमें आधार नंबर और उससे जुड़े मोबाइल नंबर के जरिए एनरोलमेंट कैंप में रजिस्टर्ड करन होगा. वनटाइम पासवर्ड के जरिए डिजिलॉकर में पहली बार जा सकते हैं, लेकिन इसके बाद ओटीपी की जरूरत नहीं होगी और खुद का पासवर्ड बना सकते हैं या फिर गूगल और फेसबुक के जरिए लॉगइन कर सकते हैं. साइनअप होने के बाद  सभी जरूरी सरकारी डाक्यूमेंट्स को डिजिलॉकर में अपलोड कर सकते हैं.

courtesy

इस एप को dijilocker.gov.in पर जाकर कर डाउनलोड कर सकते हैं. गूगल प्लेस्टोर पर भी यह एप्लीकेशन उपलब्ध है. डिजिलॉकर में डाक्यूमेंट्स को अपलोड करने के लिए अपलोड के बटन पर क्लिक करें और लोकल ड्राइव से फाइल सेलेक्ट करके ‘open’ पर क्लिक करें…अपलोडिंग शुरू हो जाएगी. डॉक्यूमेंट टाइप के मुताबिक अपलोडिंग करनी हो तो ‘select doc type’ पर क्लिक करें. अब ड्रॉप डाउन में डॉक्यूमेंट टाइप सेलेक्ट करने का ऑप्शन आएगा. जरूरतानुसार डॉक्यूमेंट पर क्लिक करें और सेव का बटन दबा दें. डॉक्यूमेंट अपलोड करते समय फाइल का नाम भी बदल सकता है.

Published by Yash Sharma on 11 Aug 2018

Related Articles

Latest Articles