रिलीज़ हुई एकता कपूर और इम्तियाज अली की फिल्म ‘लैला मजनू’, कई जगह पर कमजोर लगी कहानी

Get Daily Updates In Email

एकता कपूर और इम्तियाज अली की फिल्म ‘लैला मजनू’ आज रिलीज़ हो चुकी है. लैला मजनू की प्रेम कहानी को लेकर अब तक कई फ़िल्में बनाई जा चुकी हैं. अब देखना यह है कि यह फिल्म पुरानी फिल्मों से कितनी अलग है तो चलिए आपको बताते हैं. इस फिल्म का रिव्यू –

‘लैला मजनू’ का डायरेक्शन किया है साजिल अली ने और फिल्म की कहानी कैस यानी अविनाश तिवारी और लैला यानी त्रिपति दीमरी के इर्द-गिर्द घूमती है. वैसे यह भी बता दें कि यह पहली बार है जब दोनों एक्टर्स कैमरा फेस करते नजर आने वाले हैं. फिल्म में अविनाश की एक्टिंग की खूब तारीफ भी की जा रही है.

पुरानी कहानी की तरह ही इस कहानी में भी दोनों की प्रेम कहानी में कई मुश्किल हालत आने लगते हैं. लैला मजनू की क्लासिक कहानी को इम्तियाज अली ने एक एंगल से दर्शकों को दिखाने की कोशिश की है. इस फिल्म की कहानी इम्तियाज ने खुद ही लिखी है. फिल्म में लैला और मजनू के परिवारवालों को आपस में लड़ते हुए दिखाया गया है. फिल्म पूरी तरह से इमोशन, ड्रामा और रोमांस से भरी हुई है. बचपन से पढ़ी लैला मजनू की कहानी की तरह ही इस फिल्म में भी वही रंग देखने को मिलता है.

बात करें फिल्म की कहानी की तो इसकी कहानी एक लाइन में नहीं नजर आई. कहा जा रहा है कि यह एक टीवी सीरियल की तरह नजर आ रही है. फिल्म के गाने अच्छे हैं जो कि दर्शकों को पहले ही पसंद आ चुके हैं. फिल्म में जब लैला मजनू का प्यार परवान चढ़ता है तो उनकी लाइफ में एक ऐसा समय भी आता है जब उन्हें अलग होना पड़ता है. जिसके बाद दोनों एक-दूसरे से अलग होने का गम सह नहीं पाते और आखिर में पागल की तरह हो जाते हैं.

करीब 4 साल के बाद दोनों की मुलाकात फिर से होती है. उस समय दोनों का एक-दूसरे के लिए प्यार और दर्द वाले इमोशन फिल्म में साफ़ नजर आ रहे हैं. अब फ़िल्म के आखिर में लैला मजनू की लव स्टोरी में क्या होता है. यह जानने के लिए आपको मूवी ही देखनी पड़ेगी.

Published by Chanchala Verma on 07 Sep 2018

Related Articles

Latest Articles