KBC-10 : मोबाइल की दुकान चलाने वाले श्याम ने शो में जीते 12 लाख 50 हजार रुपए

Get Daily Updates In Email

‘कौन बनेगा करोड़पति-10’ का सफर हर दिन रोचक और मनोरंजन से भरा देखने को मिल रहा है. हर साल की तरह इस साल भी दर्शक अमिताभ बच्चन के फेमस डायलॉग ‘देवियों और सज्जनों, स्वागत है आपका…’ को सुनकर ‘कौन बनेगा करोड़पति 10’ का मजा उठा रहे हैं. टीआरपी की लिस्ट में हमेशा टॉप पर रहने वाला ये शो दर्शकों को इस साल भी काफी पसंद आ रहा है. इस साल भी ‘कौन बनेगा करोड़पति’ की हॉट सीट पर एक से बढ़कर कंटेस्टेंट्स आकर इस शानदार खेल को खेल रहे हैं.

गुरुवार की रात को झारखण्ड की उपराजधानी दुमका के श्रीरामपाड़ा निवासी युवा व्यवसायी श्याम राज ‘कौन बनेगा करोड़पति’ की हॉट सीट पर बैठकर महानायक अमिताभ बच्चन के 12वें सवाल का जवाब देते हुए 12 लाख 50 हजार की धनराशि जीत गए.

वे 25 लाख रुपए के 13वें सवाल पर अटक गए. यहां तक पहुंचने से पहले श्याम अपनी तमाम लाइफ लाइन का इस्तेमाल भी कर चुके थे. रिस्क लेने के बजाए उन्होंने गेम को क्विट कर दिया.

25 लाख रुपए का सवाल गौतम बुद्ध से जुड़ा था. जब 25 लाख का सवाल श्याम के सामने आया तो वे सही उत्तर चुनने में अपने को असमर्थ पा रहे थे. अंत में 12 लाख 50 हजार रुपए जीतकर गेम छोड़ने का निर्णय लिया, क्योंकि इसके जवाब को लेकर उनके मन में दुविधा थी. श्याम का आठ वर्ष से यही सपना था कि केबीसी की हॉट सीट तक पहुंच सकें जो पूरा हो गया. इसके लिए उन्होंने सात प्रतिभागियों को पछाड़ा था. महज इंटर तक पढ़े श्याम की मोबाइल की दुकान है.

courtesy

वहीँ उनकी पत्‍‌नी अर्चना ने स्नातक किया है. वे अभी प्ले स्कूल चला रही हैं. इसी दौरान उन्होंने बताया कि उन्हें शूटिंग के लिए 24 जुलाई को मुंबई बुलाया गया था. इससे पूर्व आठ जून को केबीसी की टीम दुमका आई थी. उनके साथ केबीसी शो में जोड़ीदार के रूप में बैंककर्मी रवि रंजन थे.

courtesy

इस दौरान पिता का जिक्र चला तो उनकी आंखें भर आईं. बताया कि पिता राम विलास चौरसिया ढाबा चलाते थे. उनका निधन हो चुका है. उनके निधन के बाद जीवन में काफी संघर्ष किया. अब श्याम मोबाइल की दुकान चला रहे हैं. यह सब सुनकर सेट पर सभी लोगों की आखें नम हो गई थीं.

Published by Lakhan Sen on 14 Sep 2018

Related Articles

Latest Articles