धोनी ने अपनी कप्तानी को लेकर कहा, ‘विराट को विश्व कप में पूरा टाइम देने के लिए छोड़ी कप्तानी’

Get Daily Updates In Email

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की गिनती टीम इंडिया के सबसे सफल कप्‍तानों में की जाती रही है. अपनी कप्‍तानी के दिनों में धोनी को ‘कैप्‍टन कूल’ कहकर पुकारा जाता था. मैदान पर परिस्थितियां भले ही टीम के प्रतिकूल हों लेकिन धोनी के चेहरे पर चिंता के भाव नजर नहीं आते थे. मैदान पर अपनी रणनीति को वह बेहतरीन तरीके प्रदर्शित करते थे.

courtesy

धोनी ने जनवरी 2017 में भारत की वनडे और टी-20 की कप्‍तानी छोड़ने का ऐलान करके हर किसी को हैरानी में डाल दिया था. धोनी के स्‍थान पर विराट कोहली को टीम की बागडोर सौंपी गई थी. वहीं 2014 में उन्होंने टेस्ट से भी अलविदा कह दिया था. हाल ही में रांची में हुए एक फंक्शन में उन्होंने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि, ‘टीम की कप्‍तानी छोड़ने का उनका फैसला जल्दबाजी में नहीं लिया था बल्कि उन्‍होंने अच्‍छी तरह से सोचने के बाद ऐसा फैसला लिया था’.

courtesy

रांची में मीडिया के बातचीत करते हुए धोनी ने कहा, ‘मैंने कप्‍तानी से इस्‍तीफा इसलिए दिया क्‍योंकि मैं चाहता था कि नए कप्‍तान को आईसीसी क्रिकेट वर्ल्‍डकप 2019 के पहले खुद को तैयार करने का पर्याप्‍त समय मिल सके’. धोनी ने कहा कि, ‘नए कप्‍तान को पर्याप्‍त समय‍ दिए बिना मजबूत टीम तैयार करना संभव नहीं है. मेरा मानना है कि मैंने सही समय पर कप्‍तानी छोड़ी.

courtesy

बता दें कि ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ 2014 में खेले गए मेलबर्न टेस्‍ट के बाद उन्होंने टेस्ट के फॉर्मेट से संन्यास ले लिया था लेकिन उन्‍होंने वनडे और टी20 मैचों में कप्‍तानी जारी रखी थी. धोनी को वर्ष 2007 में भारतीय टीम का कप्‍तान बनाया गया था. कप्‍तान के तौर पर धोनी का रिकॉर्ड खासा प्रभावी रहा था.

courtesy

जब धोनी से भारत की हार के बारे में पूछा गया तो धोनी ने कहा कि, ‘भारतीय टीम को टेस्ट सीरीज से पहले प्रैक्टिस मैच नहीं खेल पाने की कमी खली है. यही वजह है कि बल्लेबाजों को परिस्थितियों से तालमेल बैठाने में परेशानी हुई और बल्लेबाजी विफल रही. लेकिन विदेशी जमीन पर टेस्ट सीरीज की नाकामी से आप उनकी उपलब्धियों का श्रेय उनसे नहीं छीन सकते. यह सब खेल का हिस्सा है और हमें यह नहीं भूलना चाहिए कि भारत मौजूदा वर्ल्ड रैंकिंग में अब भी नंबर वन हैं’.

Published by Yash Sharma on 15 Sep 2018

Related Articles

Latest Articles