बांग्लादेश सिनेमा ने इरफान खान की फ़िल्म ‘डूब’ को भेजा ऑस्कर की राह

Get Daily Updates In Email

लगभग 30 से ज्यादा फिल्मों में काम कर चुके बॉलीवुड अभिनेता इरफान खान की एक्टिंग की दुनिया दीवानी है. फिल्म में जिस तरह से इरफ़ान एक्टिंग करते हैं वह वाकई सरहनीय है. इरफ़ान ने बॉलीवुड ही नहीं बल्कि हॉलीवुड फिल्मों में काम कर लोगों का दिल जीता है. उनकी एक्टिंग की जितनी तारीफ की जाए उतनी कम है.

वहीँ अब हम इरफान खान के फैंस के लिए एक खुशखबरी लेकर आए हैं. दरअसल इरफान खान की फ़िल्म ‘डूब’ (फूलों की सेज नहीं) को बांग्लादेश ने आधिकारिक रूप से ऑस्कर पुरस्कारों के लिए भेजने का फैसला लिया है. इस फिल्म की कहानी काफी शानदार थी, जो हर किसी को पसंद आई थी. यह फिल्म बांग्लादेश के दिवंगत लेखक और फिल्म निर्माता हुमायूं अहमद के जीवन आधारित है.

पहले इस फिल्म को बांग्लादेशी सेंसर बोर्ड ने मंजूरी नहीं दी थी. लेकिन बाद में बोर्ड ने फिल्म को रिलीज करने की अनुमति दे दी थी. इसके बाद फिल्म  27 अक्तूबर, 2017 को रिलीज की गई थी. फिल्म में इरफ़ान खान मुख्य भूमिका में नजर आए थे. फिल्म में इरफ़ान के साथ एक्टर पार्णो मित्रा और नुसरत इमरोज तिशा भी थे. इनके अलावा बांग्लादेशी कलाकार रूकैया प्राची भी फिल्म में दमदार किरदार में हैं.

बता दें कि, इरफ़ान खान को  न्यूरोएंडोक्राइन ट्यूमर की बीमारी है. इन दिनों वे अपनी बीमारी का इलाज लंदन में करवा रहे हैं. इरफ़ान ने अपने स्वास्थ्य के बारे में बताते हुए कुछ दिनों पहले ही लिखा था कि, ‘जरूरी नहीं कि जिंदगी हमें वही दे, जो हम चाहते हैं या उम्मीद करते हैं. असंभावित चीजों से हम आगे बढ़ते हैं, मेरे बीते दिन कुछ इसी तरह बीते हैं.

इरफ़ान ने आगे कहा कि, ‘अब मालूम चला है कि मुझे न्यूरोएंडोक्राइन ट्यूमर है. इससे गुजरना काफी मुश्किल है, लेकिन मेरे इर्द-गिर्द लोगों का जो प्यार और साथ है, उससे मुझे उम्मीद है. इसके लिए मुझे देश से बाहर जाना पड़ेगा. मैं सबसे निवेदन करुंगा कि मुझे अपनी दुआओं में शामिल रखें. जैसा कि कुछ अफवाहें थीं, मैं बताना चाहूंगा कि न्यूरो का मतलब हमेशा सिर्फ ब्रेन से नहीं होता, आप गूगल के जरिए इसके बारे में रिसर्च कर सकते हैं. जिन लोगों को मेरे इस ट्वीट का इंतजार था, मैं इसके बारे में आपको बताता रहूंगा.’

Published by Lakhan Sen on 25 Sep 2018

Related Articles

Latest Articles