आज रिलीज हुई दो फ़िल्में, दोनों का ही अलग जोनर और दोनों ही हैं लाजवाब, पढ़िए दोनों की कहानी

Get Daily Updates In Email

आज बॉक्स ऑफिस पर दो फ़िल्में रिलीज की गई हैं. पहली फिल्म है ‘सुई-धागा’, जिसमें अनुष्का शर्मा और वरुण धवन मुख्य किरदार में नजर आ रहे हैं तो वहीँ दूसरी फिल्म का नाम है ‘पटाखा’ और इस फिल्म में मुख्य किरदारों में सान्या मल्होत्रा और राधिका मदान नजर आ रही हैं. दोनों ही अलग-अलग जोनर की फ़िल्में हैं और दर्शक दोनों को ही देखने को बेसब्र हैं. तो चलिए जानते हैं कैसी हैं दोनों फ़िल्में:

सुई-धागा :

फिल्म के नाम से ही यह बात तो सामने आ ही जाती है कि फिल्म कपड़े की कारीगरी को लेकर बनाई गई है. लेकिन इसके साथ ही इसमें एक छिपा हुआ मैसेज भी है जो आपको आगे बढ़ने की सीख भी देता है. फिल्म की कहानी के बारे में बात करें तो फिल्म में वरुण धवन एक साधारण से मध्यम वर्ग के व्यक्ति का किरदार निभा रहे हैं. फिल्म में उनका नाम मौजी बताया गया है. मौजी आम लोगों की तरह ही कुछ काम करता है और उसकी पत्नी ममता यानि अनुष्का शर्मा उनकी पत्नी का किरदार निभा रही हैं जो कि काम में उनकी मदद भी करती हैं.

फिल्म के अनुसार मौजी एक जगह पर काम करता है लेकिन उसका यह काम उसकी पत्नी को पसंद नहीं है. जिसके बाद वह मौजी को खुद का काम शुरू करने की सलाह देती है. मौजी का परिवार सिलाई से ही ताल्लुक रखता है इसलिए मौजी को भी यह कला आती है और मौजी इस काम को शुरू कर देता है. अब यह काम सफल होता है या नहीं? काम में मुश्किलें आती हैं या नहीं? ऐसे ही आपके मन में पनप रहे कुछ सवालों का जवाब आपको फिल्म देखने पर ही मिल सकता है.

वहीँ किरदारों के दर्शकों पर पड़े प्रभाव के बारे में कहें तो सही को वरुण-अनुष्का की जोड़ी का काम काफी पसंद आया है. मूवी देखकर आने वाला वर्ग उनके अभिनय की तारीफ कर रहा है.

पटाखा :

View this post on Instagram

Link in bio ♥️⬆️⬆️

A post shared by Sanya Malhotra ✨💥⬇️ (@sanyamalhotra_) on

फिल्म का नाम सुनकर अगर आपको ऐसा लग रहा है कि फिल्म में पटाखे फूटने वाले हैं तो शायद आप गलत सोच रहे हैं. लेकिन हां यह कह सकते हैं कि दोनों एक्ट्रेस की परफॉरमेंस आपके मन में पटाखे जरुर फोड़ सकती है. फिल्म में दो बहनों के बीच का तालमेल और लड़ाई को दिखाया गया है. साथ ही जब वे एकदूजे के सामने आती हैं या दूर रहती हैं तब उनके साथ क्या होता है इसे भी बड़ी ही खूबसूरती से पेश किया गया है.

फिल्म शुरू होते ही हमें नजर आती हैं दो सगी बहनें (बड़की और छुटकी) जो हमेशा लड़ती रहती हैं. उनका झगड़ा देख आसपास के लोग हंस-हंसकर लोटपोट हो जाते हैं. दोनों के पिता का रोल विजयराज निभा रहे हैं जो कि हमेशा उन दोनों को झगड़ा न करने की भी सलाह देते हैं. दोनों बहनें भी इस झगड़े को खत्म करने के लिए एक-दूसरे से दूर होना चाहती हैं. और इसलिए दोनों अपने लिए लड़के देखने लग जाती हैं और पसंद से शादी भी कर लेती हैं.

लेकिन असली मजा इस शादी के बाद ही आता है क्योंकि दोनों की शादी भी अंजाने में एक ही घर में हो जाती हैं. यहां से कहानी में आता है एक नया मोड़ जो कि देखने में और भी मजेदार हो जाता है. अब इसके आगे क्या होता है यह जानने के लिए भी आपको फिल्म देखने जाना ही होगा. फिल्म में सुनील ग्रोवर भी दिखाई देने वाले हैं जो दर्शकों को हंसाते नजर आ रहे हैं.

नोट : दोनों ही फ़िल्में दर्शकों को अपनी तरफ खींचने में कामयाब होती दिखाई दे रही हैं. एक फिल्म जहां आगे बढ़ने और संघर्ष को दिखाती है तो वहीँ दूसरी फिल्म आपको कभी हंसाती है तो कभी सस्पेंस में लाती है.

Published by Hitesh Songara on 28 Sep 2018

Related Articles

Latest Articles