स्वर कोकिला भारत रत्न लता मंगेशकर के नाम है सबसे अधिक सॉंग्स गाने का वर्ल्ड रिकॉर्ड

Get Daily Updates In Email

फ़िल्मी दुनिया की महान गायिका लता मंगेशकर आज अपना 89 वां जन्मदिन मना रही हैं. 28 सितम्बर 1929 को इंदौर में जन्मी लता की आवाज़ और गायिकी सिर्फ भारत में नहीं बल्कि पूरे विश्व में मशहूर हैं. लता ने अभी तक कईं हज़ार गानों में अपनी आवाज़ दी हैं. लता मंगेशकर लगभग 6 दशकों में 20 से ज्यादा भाषाओं में पचास हज़ार से अधिक गाने गा चुकी हैं. लता के नाम सबसे ज्यादा सॉन्ग गाने का वर्ल्ड रिकॉर्ड भी है.

courtesy

महज 5 साल की उम्र में उन्होंने अपने पिता दीनानाथ के साथ नाटकों में अभिनय करना शुरू कर दिया था. इसके बाद उन्होंने अपने ही पिता से संगीत की शिक्षा लेनी शुरू की थी. उन्होंने  महज 13 साल की उम्र में किटी हसाल के लिए गाना गाया था लेकिन उनके पिता को यह पसंद नहीं और उन्होंने उस फिल्म से गाना हटवा दिया. इसके बाद उनके पिता के जाने के बाद उनका परिवार मुंबई आ गया. जहां उनके मुलाकात गुलाम हैदर से मुलाकात हुई. 1949 में आई फिल्म ‘महल’ के गाने ‘आएगा आने वाले’ से उन्होंने फिल्म इंडस्ट्री में काफी पहचान बनाई.

courtesy

इसके बाद लता ने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा और एक से बढ़कर एक बेहतरीन गाने गाए. सी. रामचन्द्रन के संगीत निर्देशन और लेखक प्रदीप द्वारा लिखा हुआ गाना ‘ऐ मेरे वतन के लोगों’ को एक कार्यक्रम में सुनाया. जहां मौजूद तत्कालीन प्रधानमत्री जवाहर लाल नेहरु इस गाने से इतने प्रभावित हुए कि श्रोताओं के साथ-साथ उनकी आंखे भी नम हो गई थीं. लता मंगेशकर की आवाज़ से सुपरस्टार राजकपूर इतने प्रभावित थे कि सरस्वती का दर्जा दिया हुआ था. उन्हें उनकी फिल्म के गाने में लता की आवाज़ चाहिए होती थी.

courtesy

इतना ही नहीं लता को अपनी आवाज़ के लिए तीन बार राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित किया जा चुका है. इसके साथ ही उन्हें 1969 में पद्मभूषण, 1999 में पद्मविभूषण और 2001 में देश के सर्वोच्च सम्मान भारत रत्न से भी सम्मानित किया जा चुका है. वर्ष 1989 में उन्हें दादा साहब फाल्के पुरस्कार से भी नवाजा जा चुका है. लोग उन्हें स्वर कोकिला के नाम से भी पुकारते हैं.

Published by Yash Sharma on 28 Sep 2018

Related Articles

Latest Articles