एशिया कप फाइनल : भारत ने बांग्लादेश को 3 विकेट से हराया, 7वीं बार अपने नाम किया खिताब

Get Daily Updates In Email

दुबई के इंटरनेशनल स्टेडियम में कल एशिया कप का फाइनल मुकाबला खेला गया. फाइनल मुकाबले में कल भारत की टीम ने 3 विकेट से जीत कर एशिया कप अपने नाम कर लिया है. बांग्लादेश के लिए यह तीसरा मौका था जब वह इस टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंची है. भारत और बांग्लादेश के बीच अब तक हुए मैचों के आंकड़ों पर ध्यान दें तो टीम इंडिया का पलड़ा पहले से ही भारी था. दोनों के बीच अब तक 34 मैच हुए हैं जिसमें 28 मैच भारत ने जीते हैं जबकि 5 मैचों में बांग्लादेश ने बाजी मारी है.

टॉस जीत कर भारत ने गेंदबाजी का फैसला लिया था. भारतीय टीम की बात करें तो टीम की कप्तानी रोहित शर्मा संभाल रहे थे. उनके  साथ  शिखर धवन, अंबाती रायडू, दिनेश कार्तिक, महेंद्र सिंह धोनी, केदार जाधव, रविन्द्र जडेजा, भुवनेश्वर कुमार, कुलदीप यादव, युजवेंद्र चहल, जसप्रीत बुमराह को टीम में लिया गया था. वहीं बांग्लादेश के टीम की बात करें तो कप्तान मुर्तजा सहित लिटन दास, सौम्या सरकार, मोमिनुल हक, मोहम्मद मिथुन, मुश्फिकुर रहीम, इमरूल कायस, महमदुल्लाह, मेहदी हसन, रूबेल हुसैन, मुस्ताफिजुर रहमान को टीम में शामिल किया गया था.

courtesy

बल्लेबाजी करने उतरी बांग्लादेश की टीम की शुरुआत अच्छी रही. टीम के ओपनर बल्लेबाजों ने पहले विकेट के लिए शतकीय साझेदारी की. टीम का पहला विकेट 120 रन पर गिरा था. मेहदी हसन 32 रन बनाकर आउट हुए. भारतीय गेंदबाजों ने बांग्लादेश के बल्लेबाजों पर दबाव बनाना शुरू कर दिया था. बांग्लादेशी टीम का कोई भी खिलाड़ी ज्यादा देर तक मैदान पर नहीं टिक पाया. बांग्लादेश की ओर से सबसे ज्यादा रन लिटोन दास ने बनाए. लिटोन ने 121 रन बना कर टीम के स्कोर को 222 तक पहुंचाया. वहीं भारतीय गेंदबाजों में कुलदीप यादव और केदार जाधव  ने बल्लेबाजों पर अपनी गेंदबाजी से ख़ास दबाव बनाया हुआ था. जाधव ने सबसे ज्यादा 3 विकेट लिए. वहीं कुलदीप यादव ने 2 और चहल, बुमराह ने 2-2 विकेट हासिल किए.

courtesy

223 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी टीम इंडिया की सलामी जोड़ी टीम को शुरुआत नहीं दे पाई. शिखर धवन मात्र 15 रन बनाकर आउट हुए. इसके बाद आए अम्बाती रायडू भी खास कमाल नहीं कर सके. रोहित और कार्तिक ने मिलकर टीम इंडिया की स्थिति को संभाला. कप्तान रोहित ने सबसे ज्यादा 48 रन बनाए तो वहीं कार्तिक ने भी उनका साथ देते हुए 37 रन बनाए. रोहित के आउट होने के बाद धोनी मैदान में आए. धोनी ने कार्तिक का साथ देते हुए 36 रनों की पारी खेली. 5 विकेट गवाने के बाद गेंदबाजी क्रम में जाधव, जडेजा और भुवनेश्वर ने निचले क्रम को संभाला. जाधव और जडेजा ने 23 तो भुवनेश्वर ने 27 रन की अहम पारी खेल टीम इंडिया को विजेता बनने में अहम योगदान दिया. इंडिया ने यह मुकाबला 3 विकेट शेष रहते जीत लिया था.

courtesy

टीम इंडिया ने सांतवीं बार एशिया कप अपने नाम किया है. इससे पहले इंडिया ने 6 बार एशिया कप के खिताब को अपने नाम किया है. पिछली बार 2016 में ढाका में हुए एशिया कप के फाइनल में भी भारत ने बांग्लादेश को 8 विकेट से मात देकर वह खिताब अपने नाम कर लिया था.

Published by Yash Sharma on 29 Sep 2018

Related Articles

Latest Articles