एशियाड स्तर पर निजी वर्ग में गोल्ड जीतने वाले पहले भारतीय तीरंदाज बने हरविंदर सिंह

Get Daily Updates In Email

यूथ ओलंपिक गेम्स (Youth Olympic Games) में अभी हाल ही में भारत की थांगजाम तबाबी देवी (Thangjam Tababy Devi) ने महिलाओं की 44 किग्रा वर्ग में रजत पदक जीत कर देश का नाम गौरवान्वित किया है. तबाबी देवी के बाद अब पैरा एशियन गेम्स में हरविंदर सिंह ने सातवां स्वर्ण पदक जीत कर देश का नाम रोशन किया है. दरअसल पैरा एशियन गेम्स (Para Asian Games) में हरविंदर सिंह ने पुरुषों की इंडिविजुअल रिकर्व ओपन तीरंदाजी (individual Recurv Open Open Archery) (डब्ल्यू2/एसटी) स्पर्धा में पहला स्थान हासिल किया.

हरविंदर सिंह ने यह ख़िताब चीन के झाओ लिझुये को 6-0 से हरा कर अपने नाम किया है. खास बात तो यह है कि, एशियाई खेलों में भारत ने यह पहली बार तीरंदाजी में इंडिविजुअल इवेंट में गोल्ड मेडल हासिल किया हैं.  हरविंदर सिंह ने जिस डब्ल्यू2/एसटी स्पर्धा में यह पदक जीता है, जानिए वह स्पर्धा क्या होती है? बहुत कम ही लोगों को पता होगा कि डब्ल्यू 2 वर्ग में विकलांग खिलाड़ी होते हैं. यूं कहे तो! डब्ल्यू 2 वर्ग में ऐसे खिलाड़ी आते हैं जिनके पैरे कटे होते हैं और वे चल नहीं पाते हैं. ऐसे विकलांग खिलाड़ी जिन्हें व्हीलचेयर की जरूरत पड़ती हैं. वे सभी डब्ल्यू 2 वर्ग में आते हैं.

वहीं हम बात करें एसटी स्पर्धा की तो इस स्पर्धा में खिलाड़ी विकलांग तो होते हैं. लेकिन इन्हें एसटी वर्ग के तीरंदाज में सीमित दिव्यांगता दी जाती हैं. इन खिलाडियों को व्हीलचेयर के बिना भी निशाना लगाने की अनुमति होती है. जानकारी के लिए आपको बता दें कि पैरा एशियन गेम्स (Para Asian Games) में भारत अब तक 31 पदक जीत चुका है. इससे पहले भारत ने साल 2014 में चियोन पैरा एशियन गेम्स में 33 पदक अपने नाम किए थे. अब देखना होगा की इस बार भारत अपने नाम कितने पदक करता है.

courtesy

साल 2014 के मुकाबले इस साल के पैरा एशियन गेम्स (Para Asian Games) में काफी अच्छा प्रदर्शन कर रहा है. दरअसल भारत इस बार पदक तालिका में आठवें स्थान पर है जबकि साल 2014  में इस स्पर्धा में 15वें स्थान पर रहा था. यह स्पर्धा 13 अक्टूबर को खत्म होगी. वहीं हम बात करें विदेशी खिलाडियों की तो इस स्पर्धा में विदेशी खिलाड़ी भी काफी शानदार प्रदर्शन कर रहे हैं.

Published by Lakhan Sen on 11 Oct 2018

Related Articles

Latest Articles