पीएम मोदी और शशि थरूर के अनोखे शब्द को लेकर ट्वीटर पर मचा धमाल, लोगों ने जानना चाहा मतलब

Get Daily Updates In Email

भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी सोशल मीडिया साइट्स ट्विटर के जाने पहचाने चेहरे हैं. ट्विटर पर उनके 4 करोड़ से ज्यादा फ़ॉलोवर्स हैं. हर दिन वह कईं योजनाओं और कार्यों की जानकारी ट्वीट के माध्यम से देशवासियों के साथ शेयर करते हैं. ऐसे में नवरात्री के मौके पर भी वह अपने देशवासियों को बधाई देना नहीं भूलते और नवरात्री के हर दिन वह एक नए श्लोक के साथ सभी को शुभकामनाएं देते हैं.

ऐसे में मोदी ने नवरात्री के पहले दिन माता का एक श्लोक शेयर किया जिसमें उन्होंने एक अजीबोगरीब शब्द का इस्तेमाल किया था. जिसका अर्थ हर कोई जानना चाह रहा था. यह शब्द संस्कृत में हैं और इसका अनुवाद जानने के लिए हर कोई उत्सुक है.

courtesy

पीएम ने 10 अक्टूबर को एक ट्वीट में संस्कृत के इस श्लोक को लिखा था कि, ‘दधाना करपद्माभ्यामक्षमालाकमण्डलू. देवी प्रसीदतु मयिब्रह्मचारिण्यनुत्तम. इस श्लोक का अर्थ है- आप अपने करकमलों में माला (दाहिने) और कमंडल (बाएं) धारण करती हैं. हे ब्रह्मचारिणी देवी, आपसे उत्तम और श्रेष्ठ और कुछ नहीं हो सकता. प्रसन्न होकर आप हम सब पर कृपा करें.’

वहीं इस श्लोक में प्रयुक्त शब्द ‘करपद्माभ्यामक्षमालाकमण्डलू’ का अर्थ जानने के लिए लोग काफी उत्सुक हैं. वहीं इस शब्द को यूज़र्स शशि थरूर के अंग्रेजी शब्द से जोड़ रहे हैं. दरअसल शशि थरूर ने कुछ दिन पहले नरेन्द्र मोदी पर लिखी किताब के लॉन्च दौरान एक शब्द बोला था. जिसे यूज़र्स नरेन्द्र मोदी के इस ट्वीट को उसका जवाब मान रहे हैं.

शशि थरूर ने अपनी आने वाली किताब ‘द पैराडॉक्सिकल प्रेसिडेंट’ के प्रमोशन के लिए खूब ट्वीट किए थे. ऐसे ही अपने एक ट्वीट में थरूर ने ‘floccinaucinihilipilification’ (फ्लोक्सिनॉसिनिहिलिपिलिफिकेशन) शब्द का इस्तेमाल किया. इस शब्द को लेकर कुछ सोशल मीडिया यूजर्स तो शशि थरूर का मजाक भी उड़ाने लगे. यूजर्स ने पूछा कि यह खरीदने पर डिक्शनरी मुफ्त में मिलेगी या नहीं. दरअसल शशि थरूर ने लिखा था, ‘मेरी नई किताब, द पैराडॉक्सिकल प्राइम मिनिस्टर है जो ‘फ्लोक्सिनॉसिनिहिलिपिलिफिकेशन’ पर 400 पन्नों की मेहनत के अलावा भी कुछ है’.

खास बात यह है कि थरूर के ट्वीट के अगले ही दिन नवरात्र में मां दुर्गा की स्तुति से जुड़ा पीएम मोदी का ट्वीट आया. पीएम ने अपने ट्वीट में संस्कृत का जो शब्द इस्तेमाल किया है, वह थरूर के अंग्रेजी के शब्द पर भी भारी पड़ता नजर आता है.

Published by Yash Sharma on 13 Oct 2018

Related Articles

Latest Articles