BCCI ने खारिज की विराट की अपील, तय समय तक ही साथ रहेंगी खिलाड़ियों की पत्नियां

Get Daily Updates In Email

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने भारतीय खिलाड़ियों के साथ कल बैठक का आयोजन किया था. जिसमें टीम के सिलेक्टर, कोच, टीम के कप्तान और बीसीसीआई के अधिकारियों की बीच हुई मीटिंग में आस्ट्रेलिया के दौरे के और टीम में विदेशी दौरे के लिए खिलाडियों की पत्नियों के साथ जाने को लेकर बात हुई थी. इस बैठक में कप्तान विराट कोहली, रोहित शर्मा, अजिंक्य रहाणे, एसएसके प्रसाद, राहुल जौहरी, डायना इडुल्जी और विनोद राय शामिल थे और बताया जा रहा है मीटिंग दो घंटों तक चली.

courtesy

हैदराबाद में हुई मीटिंग के दौरान के टीम के कई अहम मुद्दो को लेकर बातचीत हुई. हालाकिं इस मीटिंग को पूरा गोपनीय रखा गया था. बोर्ड के किसी अधिकारी ने मीडिया और पत्रकारों से बात करने के मना कर दिया था. सूत्रों की मानें तो इस बैठक में ऑस्ट्रेलिया दौरे और खिलाड़ियों की पत्नियों को लेकर बातचीत की गई और इन मसलों पर फैसला लिया गया.

courtesy

खबरों की मानें तो लिए गए फैसले के मुताबिक खिलाड़ियों की पत्नियां पूरे दौरे पर क्रिकेटरों के साथ नहीं रह सकेंगी और ऑस्ट्रेलिया में दूसरे वार्म-अप मैच को लेकर स्थिति फिलहाल साफ नहीं है कि यह मैच खेला जाएगा या नहीं. हालांकि आस्ट्रेलियन क्रिकेट बोर्ड बीसीसीआई के साथ मिलकर इस मामले में कुछ करने की कोशिश कर रहा है कि नवंबर के आखिरी में एक अभ्यास मैच खेला जाए. वैसे नवंबर के आखिरी में भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीन टी 20 मैचों की सीरीज खेलने वाली है.

courtesy

टीम में खिलाड़ियों की पत्नियों के साथ होने के फैसले पर बोर्ड ने आस्ट्रेलिया बोर्ड की नीति अपनाई. इसके तहत टीम के खिलाड़ियों की पत्नियों एक वक्त तक ही उनके साथ रह सकती है और इसका फैसला टीम के दौरे के अनुसार होगा. ये वक्त हर टूर पर अलग-अलग होगा. टीम का जितने दिन का दौरा होगा उस अनुसार टीम के खिलाड़ियों की पत्नियां उनके साथ रह सकती हैं. वहीं विश्वकप के लिए बोर्ड ने पिछले विश्वकप की ही नीति अपनाई है. जिसमें टीम के सेमीफाइनल मैच तक उनकी पत्नियां या घरवाले साथ नहीं रह सकते हैं.

Published by Yash Sharma on 13 Oct 2018

Related Articles

Latest Articles