चालू होने जा रहा है चीन में बना दुनिया का सबसे लंबा पुल, 3 घंटे की दूरी 30 मिनट में होगी तय

Get Daily Updates In Email

यह बात हम सभी को पता है कि भारत का सबसे लम्बा पुल (ब्रिज) ढोला-सादिया ब्रह्मपुत्र पुल है. यह पुल देश के दो पूर्वोत्तर राज्यों असम और अरुणाचल प्रदेश को जोड़ने का काम करता है. इस पुल की लम्बाई 9.15 किलो मीटर है. वहीं हम बात करें दुनिया के सबसे लम्बे पुल की तो पूर्वी चीन के शैनडॉन्ग राज्य में दुनिया का सबसे लंबा पुल बना है. इस पुल पर से प्रतिदिन करीब 30 हजार वाहन निकलते हैं. लेकिन अब इस पुल से भी बड़ा पुल बनकर तैयार हो गया है. हालांकि यह पुल भी चीन ने ही बनाया है. जैसे ही इस पुल का उद्घाटन हो जाएगा. वैसे ही यह पुल दुनिया का सबसे लम्बे पुल का रिकार्ड अपने नाम कर लेगा.

courtesy

दरअसल चीन समंदर पर बने दुनिया के सबसे लंबे पुल का उद्घाटन जल्द ही करने वाला है. इस पुल का नाम ‘हॉन्ग कॉन्ग-झुहाई-मकाउ पुल’ है. इस पुल की लम्बाई 55 किलोमीटर से ज्यादा है. खास बात तो यह है कि, हॉन्ग कॉन्ग-झुहाई-मकाउ पुल थ्री लेन है. इस पुल को बनाने में कई सावधानी रखी गई है. पुल में 4 लाख टन स्टील लगा है, जो रिक्टर पैमाने पर 8 की तीव्रता वाले भूकंप को भी आसानी से झेल सकता है.

courtesy

इस पुल बनाने का ख्याल सबसे पहले चीन सरकार को साल 2002 में आया था. इसके बाद साल 2003 में यह एक परियोजना के रूप में सामने आया था. लगभग 6 साल बाद दिसंबर 2009 में इसका निर्माण शुरू हुआ था. इस पुल पर जितना खर्चा भी आया है. वह हांगकांग, झुहाई और मकाऊ की सरकारों ने मिलकर उठाया है. जानकारी के लिए आपको बता दें कि इस पुल के निर्माण में करीब 120 अरब युआन या 17.3 अरब डॉलर का खर्च आया है.

courtesy

इस पुल के शुरू होने से यात्री अब घंटो का सफर मिनटों में तय कर सकेंगे. आमतौर पर हांगकांग इंटरनेशनल एयरपोर्ट से झुहाई तक जाने में चार घंटे का समय लगता है. लेकिन अब इतना लम्बा सफर तय करने में सिर्फ 45 मिनट का वक्त लगेगा. वहीं क्वाई चुंग कंटेनर पोर्ट (हांगकांग) और झुहाई के बीच आने-जाने में लगने वाला समय अब घटकर सवा घंटे  हो जाएगा. जबकि पहले यह समय साढ़े तीन घंटे  से ज्यादा लगता था.

Published by Lakhan Sen on 23 Oct 2018

Related Articles

Latest Articles