बर्थडे स्पेशल : 34 साल के हुए गेंदबाज इरफ़ान, पाकिस्तान के खिलाफ हेट्रिक लेकर बनाया था रिकॉर्ड

Get Daily Updates In Email

भारतीय क्रिकेट टीम के हरफमौला गेंजबाज इरफ़ान पठान अपने समय में गेंदबाजी से हर किसी को कायल कर चुके हैं. इरफान की तुलना स्विंग के सुल्तान और पाकिस्तानी खिलाड़ी वसीम अकरम से की जाती थी. आज इरफान अपना 34वां बर्थडे मना रहे हैं. इरफान का जन्म 27 अक्टूबर 1984 को गुजरात में हुआ था. इरफान ने करियर की शुरूआत फर्स्ट क्लास मैचों से की थी. उन्होंने पहला फर्स्ट क्लास मैच बड़ौदरा की तरफ से 2000 में आंध्रप्रदेश के खिलाफ खेला गया था. इसके बाद पठान ने अब तक 113 फर्स्ट क्लास मैच खेले जिनमें उन्होंने 365 विकेट चटकाए हैं.

courtesy

उन्होंने अपनी गेंदबाजी के साथ-साथ बल्लेबाजी में भी शानदार प्रदर्शन किया था. अपनी रफ्तार और स्विंग के मेल से पठान ने दुनिया को चौंका दिया था. उन्होंने टीम इंडिया के लिए सबसे पहला टेस्ट मैच दिसंबर 2003 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेला था. वहीं 2004 में वनडे मैच में पदार्पण किया था. उनके करियर में ऐसे मौके आए थे जब उन्होंने अपने शानदार प्रदर्शन के साथ भारत को जीत दिलाई थी. लेकिन एक मौका ऐसा भी आया था जब उन्होंने कराची टेस्ट में पहले ओवर में ही हैट्रिक ली थी.

courtesy

पाकिस्तान के खिलाफ 2004 और 2006 की दोनों सीरीज में पठान ने शानदार प्रर्दशन किया था. कराची में 2006 में हुए तीसरे टेस्ट में पठान ने पहले ही ओवर में हैट्रिक ली. ऐसा करने वाले वह पहले खिलाड़ी थे. उन्होंने सलमान बट्ट, यूनुस खान और मोहम्मद युसुफ को आउट किया था. यह हैट्रिक बेहद खास थी क्योंकि इरफान टेस्ट मैच के पहले ही ओवर में हैट्रिक लेने वाले विश्व के सबसे पहले गेंदबाज बने थे.

courtesy

कपिल देव और इरफ़ान के आंकड़ों को देखें तो बहुत ही रोचक तथ्य सामने आते हैं. टेस्ट मैचों में कपिल का औसत 31.5 का है और वन डे में उनका औसत 23.79 का है. जबकि इरफान का टेस्ट में औसत 31.57 का और वन डे में 23.39 का रहा है. वहीं 2007 में हुए टी-20 विश्वकप में इरफ़ान ने टीम को विश्वकप जीताने में अपनी अहम भूमिका निभाई थी. फाइनल मैच में इरफान ने 4 ओवरों में सिर्फ 16 रन देकर 3 विकेट लिए थे. उन्हें ‘मैन ऑफ द मैच’ चुना गया था और इस तरह भारत पहला टी-20 वर्ल्ड कप जीतने में कामयाब रहा.

Published by Yash Sharma on 27 Oct 2018

Related Articles

Latest Articles