बिक गया शोमैन राज कपूर का आरके स्टूडियो, अब इस जगह पर बनाई जाएगी आवासीय बिल्डिंग

Get Daily Updates In Email

भारतीय सिनेमा में आरके स्टूडियो का अहम योगदान रहा है. इसे ‘शोमैन’ के नाम से जाने जाने वाले राज कपूर ने बनवाया था. राज कपूर अपने समय के बेहतरीन एक्टर्स में शामिल थे. काफी समय से आरके स्टूडियो की बिक्री को लेकर ख़बरें आ रही थीं लेकिन अब इस तरह ही ख़बरों पर विराम लग गया है क्योंकि यह स्टूडियो अब बिक चुका है.

Courtesy

बताते चलें आरके स्टूडियो को गोदरेज प्रॉपर्टीज ने खरीदा है. रिपोर्ट्स की मानें तो इस स्टूडियो के नए मालिक इस आईकॉनिक स्टूडियो को हटाकर एक आवासीय बिल्डिंग बनाना चाहते हैं. जिसका कारण यह है कि यह प्रोजेक्ट अपकमिंग मेट्रो स्टेशन के पास है जिसका फायदा डेवलपर को खूब मिलेगा.

Courtesy

यह स्टूडियो 170 करोड़ रुपए में बिका है. इस जगह की इतनी ज्यादा कीमत मिलने की एक वजह यह थी कि यह प्रॉपर्टी मुंबई के चेम्बूर में 2.4 एकड़ में फैली है. लेकिन नए मालिक ने सिर्फ 2 एकड़ की कीमत ही चुकाई है. इसके अलावा लेन-देन की कीमत 170- 190 करोड़ के बीच बताई जा रही है. वैसे इस डील में कपूर फैमिली को उम्मीद थी कि उन्हें पूरे 2.4 एकड़ की कीमत मिलेगी लेकिन गोदरेज प्रॉपर्टीज 2 एकड़ से ज्यादा का भुगतान नहीं करेगी.

Courtesy

स्टूडियो की पेपर पर साइज 2.4 एकड़ है. लेकिन यूज करने के हिसाब से यह 2 एकड़ ही है क्योंकि दूसरे हिस्से में झुग्गी बस्तियों और दुकानों का अतिक्रमण है. बताते चलें इस स्टूडियो का गणेश उत्सव काफी फेमस है और इस बार का गणेशोत्सव आरके स्टूडियो में आखिरी गणेशोत्सव था. जिसे कपूर खानदान ने पूरी धूमधाम से मनाया. गणेशोत्सव के दौरान स्टूडियो के बिकने को लेकर रणधीर कपूर ने कहा था- ‘हमें बहुत दु:ख है, लेकिन 2016 में यहां आग लगने के बाद अब सारा स्टूडियो फिर से बनाना नामुमकिन है. वैसे भी सभी फिल्म की शूटिंग के लिए गोरेगांव या अंधेरी जाते हैं, चेम्बूर कोई नहीं आता.’

Courtesy

बात करें स्टूडियो में बनी फिल्मों की तो इस स्टूडियो में बनी पहली फिल्म ‘आग’ फ्लॉप रही थी. वहीं इसके बाद बनी फिल्म ‘बरसात’ सुपरहिट रही थी. इस फिल्म में राज कपूर और नरगिस नजर आए थे जिसे दर्शकों द्वारा खूब पसंद किया गया था. इस स्टूडियो में ‘आग’, ‘बरसात’ के अलावा ‘आवारा’, ‘श्री 420’, ‘संगम’, ‘मेरा नाम जोकर’, ‘बॉबी’ और ‘राम तेरी गंगा मैली’ जैसी फिल्में बनाई गई हैं.

Published by Chanchala Verma on 29 Oct 2018

Related Articles

Latest Articles