बच्चे को संभालते वायरल हुई कांस्टेबल अर्चना का पुलिस महानिदेशक ने गृह क्षेत्र में किया तबादला

Get Daily Updates In Email

अपनी ड्यूटी के दौरान छह माह की बच्ची को लेकर अपना कार्य मुस्तैदी से करने वाली महिला कांस्टेबल अर्चना जयंत की फोटो कुछ दिनों पहले ही सोशल मीडिया पर वायरल हुई थी. वायरल होने के बाद उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक ओ पी सिंह ने इस पर ध्यान देते हुए अर्चना का तबादला उनके घर के पास करने का आदेश दे दिया है.

ड्यूटी के दौरान भी मां की जिम्मेदारी और खाकी का फर्ज निभाने वाली महिला कांस्टेबल अर्चना की सोशल मीडिया पर फोटो तेजी से वायरल हुई थी. उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक ने ट्वीट कर कहा कि उन्होंने अर्चना से बात की है और उसका तबादला उसके घर के पास आगरा करने का आदेश दिया है. ओ पी सिंह ने कहा कि अर्चना का जज्बा पुलिस विभाग को प्रेरणा देने वाला है. इक्कीसवीं सदी की महिला का यह उत्कृष्ट उदाहरण है जो अपनी जिम्मेदारियों पर यकीन करती है.

courtesy

सिपाही अर्चना ने अपने बच्चे को पालने के साथ ही अपनी ड्यूटी का कर्तव्य पूरी निष्ठा के साथ निभाया. जिसे देखकर डीआईजी सुभाष सिंह ने उनकी कर्तव्य निष्ठा को देखते हुए एक हजार रुपए का नकद पुरस्कार दिया. जिसे पाकर अर्चना बहुत खुश हुई थीं. बता दें कि कांस्टेबल अर्चना जयंत का परिवार आगरा में रहता है जबकि उसका ससुराल कानपुर में है. उसका पति गुड़गांव की एक निजी कंपनी में काम करता है. 6 माह की बच्ची के अलावा अर्चना की एक दस वर्ष की बच्ची भी है.

courtesy

अर्चना के करीबी लोगों का कहना है कि वह सुबह घर से अपनी बेटी के साथ कोतवाली आती हैं. जहां वह बेटी की देखरेख के साथ-साथ ड्यूटी भी करती हैं. अर्चना बताती है कि इसमें उन्हें काफी परेशानी आती है. सुबह-सुबह घर में काम करना पड़ता है. अगर थोड़ा भी लेट हो जाए तो उन्हें डर सताता है. अर्चना ने कहा कि उनकी दो बेटी है. बड़ी बेटी को सास-ससुर देखते हैं. छोटी बेटी की उम्र अभी 6 माह की है इसलिए छोटी बेटी उनके साथ रहती है.

courtesy

वहीं झांसी के एस.एस.पी. विनोद कुमार सिंह ने कहा कि इस समय जिले में 350 महिला कांस्टेबल तैनात हैं. जिनमें सौ की स्थिति अर्चना की ही तरह है यानी वे भी अपने छोटे बच्चे भी संभाल रही हैं और साथ ही समर्पण के साथ ड्यूटी भी कर रही हैं.

Published by Yash Sharma on 31 Oct 2018

Related Articles

Latest Articles