भाग्यलक्ष्मी डेयरी की गायें रहती हैं AC में और सुनती हैं गाने, कई बड़ी हस्तियां हैं कस्टमर

Get Daily Updates In Email

डेयरी शब्द सुनते ही हमारे दिमाग सबसे पहले छवि बनती है बहुत सारी गायों की जो एक साथ बंधी रहती हैं. आपने अभी तक कई गाय डेरी देखी भी होंगी लेकिन कभी आपने ऐसी गाय की डेरी देखी है जिसमें गायों को बेड पर सुलाया जाता हो और AC की हवा में रखा जाता हो. अगर नहीं तो चलिए आज हम आपको बताने जा रहे हैं एक ऐसी डेयरी के बारे में जहां पर गायों को बेड पर सुलाया जाता हो और AC की हवा के बीच में बांधा जाता है. सुनकर आपको यकीन नहीं हो होगा लेकिन यह बात पूर्णरूप से सच है. तो चलिए जानते हैं इस डेयरी के बारे में कुछ दिलचस्प बातें-

जी हां! दरअसल हम बात कर रहे हैं पुणे के उत्तर पूर्व के एक गांव में स्थित भाग्य लक्ष्मी डेयरी की. यह डेयरी लगभग 35 एकड़ में फैली हुई है. इस डेयरी के फाउंडर देवेन्द्र शाह हैं. देवेन्द्र शाह इस डेयरी का निर्माण काफी परेशानियों के बाद कर पाए थे. इस डेयरी के लिए उन्होंने बैंक से लोन लिया था तब जाकर इस डेरी का निर्माण हो पाया था.

भाग्यलक्ष्मी डेयरी में लगभग देश विदेश की करीब 2000 से ज्यादा होलस्टिन प्रजाति की गायें हैं. चौंकाने वाली बात तो यही है कि इन गायों को आराम करने के लिए मैट बिछाए गए हैं, वहीं उन्हें हवा के लिए AC और बड़े-बड़े पंखे लगे हुए हैं. यहां की गाय आम गायों की अपेक्षा दुगना दूध देती है. आमतौर पर यहां पर रहने वाली देशी गाय 10-12 लीटर दूध देती है जबकि विदेशी गाय 25 से 28 लीटर दूध देती है.

इन्हें रिलैक्स करने के लिए म्यूजिक भी बजाया जाता है. ये गायें RO का पानी पीती हैं. इन गायों का निकलने वाला दूध बाजार में बिक रहे दूध की अपेक्षा तीन गुना ज्यादा महंगा मिलता है. खास बात तो यह है कि इन गाय का दूध हर किसी को नहीं मिलता है. गायों का दूध खरीदने के लिए आपको पुराने कस्टमर से रिकमंडेशन लेना पड़ता है जब जाकर आपको इन गायों का दूध मिलता है. भाग्यलक्ष्मी डेयरी का दूध ‘प्राइड ऑफ काऊज’ के नाम से बाजार में आता है. ‘प्राइड ऑफ काऊज’ दूध के अंबानी, बच्चन, और अक्षय कुमार जैसी हस्तियां कस्टमर हैं.

Published by Lakhan Sen on 01 Nov 2018

Related Articles

Latest Articles