रिलीज होते ही इन्टरनेट पर छाया ‘जीरो’ का ट्रेलर, लोगों को पसंद आ रही शाहरुख-अनुष्का की एक्टिंग

Get Daily Updates In Email

‘माई नेम इज खान’, ‘फैन’, और ‘डर’, जैसी सुपरहिट फिल्मों में अपनी दमदार एक्टिंग का जलवा दिखाने वाले बॉलीवुड के किंग खान यानि शाहरुख खान एक बार फिर बड़े पर्दे पर सबसे हटकर किरदार निभाते नजर आने वाले हैं. दरअसल वे अपनी आगमी फिल्म ‘जीरो’ में बोने व्यक्ति का किरदार निभाते नजर आने वाले हैं.

आज शाहरुख खान के बर्थडे के मौके पर फिल्म का ट्रेलर रिलीज किया गया है. फिल्म का ट्रेलर अभी रिलीज हुए एक घंटे से ज्यादा का वक्त नहीं हुआ है. और ट्रेलर सोशल मीडिया पर ट्रेंड करने लगा हैं. ट्रेलर को एक घंटे के अन्दर लाखों लोग देख चुके हैं. जिस तरह से ट्रेलर शाहरुख के फैन्स के द्वारा देखा जा रहा है. उसे देख कर तो ऐसा लगा रहा हैं कि फिल्म बॉक्स ऑफिस के कई रिकार्ड तोड़ने वाली है.

ट्रेलर में आप देख सकते हैं शाहरुख खान मेरठ के ‘बउआ सिंह’ का रोल प्ले करते दिख रहे हैं. खास बात तो यह है कि बउआ सिंह 38 साल की उम्र में भी कुंवारा है. और वो अपनी सपनों की राजकुमारी ढूंढ रहा है. तभी उसकी अचानक से मुलाकात आफिया यानि अनुष्का शर्मा से होती हैं. आफिया को सेरेब्रल पलसी की बीमारी होती हैं. जिसकी वजह से वह अपंग हैं. लेकिन फिर भी बउआ सिंह को उस से प्यार हो जाता है और वो जाकर आफिया को बड़े ही शानदार तरीके से प्रपोज करता है.

इसके बाद आफिया बउआ सिंह का प्रपोजल स्वीकार कर लेती है. इसके बाद आफिया भी बउआ सिंह से प्यार करने लगती है. लेकिन बउआ के सपने बड़े होते हैं तो वह आफिया को छोड़ एक्ट्रेस का किरदार निभा रही कैटरीना कैफ को भी चाहने लगता है. कैटरीना कैफ भी बउआ सिंह के प्यार में फंस जाती हैं लेकिन अचानक ऐसा कुछ होता है कि फिर वह बउआ बने शाहरुख को अपनी जिंदगी से बाहर फेंक देती है. इसके बाद बउआ सिंह की लाइफ में ट्विस्ट आते हैं. यह ट्विस्ट देखने के लिए आपको फिल्म देखनी पड़ेगी.

जिस तरह से शाहरुख ने बउआ सिंह का रोल निभाया हैं. वह वाकई सराहनीय है. उनकी एक्टिंग की जितनी तारीफ की जाए उतनी कम है. ट्रेलर सोशल मीडिया पर छा गया है. हर कोई शाहरुख और अनुष्का शर्मा की एक्टिंग की तारीफ कर रहा है.

ट्रेलर में शाहरुख खान यानि बउआ सिंह दो दिलचस्प डायलॉग बोलते दिख रहे हैं. पहला तो है 38 की उम्र में जो कुंवारे घूमते हैं उन्हें बारिश से डर नहीं लगता. दूसरा डायलॉग छोटा भले ही लेकिन काफी मजेदार हैं. ‘जिंदगी काटनी किसे थी, हमें तो जीनी थी.’

Published by Lakhan Sen on 02 Nov 2018

Related Articles

Latest Articles