पृथ्वी शॉ से पहले भी कई खिलाड़ी जीत चुके हैं अपने टेस्ट डेब्यू मैच में ‘मैन ऑफ़ द मैच’ का ख़िताब

Get Daily Updates In Email

सभी क्रिकेटर अपने देश के लिए टेस्ट मैच जरूर खेलना चाहते हैं. यह सपना क्रिकेट में करियर बनाने वाले हर क्रिकेटर के मन में होता है. हाल ही में क्रिकेटर पृथ्वी शॉ ने महज 18 साल की उम्र में टीम इंडिया के लिए टेस्ट डेब्यू करने के साथ ही इतिहास भी रच दिया है.

Courtesy

जी हां, वेस्टइंडीज के खिलाफ खेली गई अपनी पहली सीरीज में पृथ्वी ने 2 मैच की 3 पारियों में 1 शतक और 1 अर्धशतक के साथ 252 रन बनाए. जिसके बाद उन्हें ‘मैन ऑफ द सीरीज’ के ख़िताब से सम्मानित किया गया. यह पृथ्वी के लिए और देश के लिए काफी गर्व की बात है. लेकिन इससे पहले भी कई  खिलाड़ी अपने डेब्यू से ही ‘मैन ऑफ द सीरीज’ का ख़िताब जीत चुके हैं. तो चलिए आपको बताते हैं कौन से हैं ये खिलाड़ी –

1. सौरव गांगुली –

अपने क्रिकेट के करियर में कई रिकार्ड्स बनाने वाले सौरव गांगुली ‘प्रिंस ऑफ कोलकाता’ के नाम से जाने जाते हैं. उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ लॉर्ड्स में खेले गए दूसरे टेस्ट से अपने करियर की शुरुआत की थी. उस मैच में भारतीय टीम सीरीज 0-1 से पीछे चल रही थी. इस मैच में सौरव ने 301 गेंदों पर 131 रन बनाकर शानदार पारी खेली थी. इस पारी में उन्होंने 20 शानदार चौके भी जड़े थे. इस समय गांगुली डेब्यू मैच में शतक मारने वाले 10वें खिलाड़ी बन गए थे.

इसके बाद सौरव गांगुली ने ट्रेंटब्रिज में हुए दूसरे टेस्ट मैच में भी शानदार 136 रनों की शतकीय पारी खेली थी. जिसके बाद लॉर्ड्स और फिर नॉटिंघम टेस्ट में बनाए अपने शानदार रनों के बाद गांगुली को अपनी डेब्यू सीरीज में ही ‘मैन ऑफ द सीरीज’ का खिताब दिया गया था.

Courtesy

2. आर अश्विन –

साल 2011 में वेस्टइंडीज के खिलाफ खेले गए टेस्ट मैच से अश्विन ने अपने करियर की शुरुआत की थी. यह मैच दिल्ली में खेला गया था. जहां अश्विन ने पहने मुकाबले में ही 9 विकेट झटक लिए थे. जिसके बाद मुंबई में हुए तीसरे टेस्ट में अश्विन ने 2 विकेट अपने नाम किए. जिसके बाद इस सीरीज एक लिए अश्विन को ‘मैन ऑफ द सीरीज’ का ख़िताब दिया गया था. यह भी बता दें कि इस पूरी सीरीज में अश्विन ने तीन मैचों में 22 विकेट लिए थे और 1 शानदार शतक भी लगाया था.

Courtesy

3. रोहित शर्मा –

साल 2013 में कोलकाता के ईडन गार्डन मैदान पर वेस्टइंडीज के ही खिलाफ हुए टेस्ट मैच से अपने करियर की शुरुआत करने वाले रोहित शर्मा ने 108 वनडे मैच खेलने के बाद टेस्ट में डेब्यू किया था. अपने करियर के पहले अंतरराष्ट्रीय टेस्ट की शुरुआत रोहित ने 177 रन की पारी खेलकर की थी. जिसके बाद अपने अगले टेस्ट में रोहित ने वानखेड़े के मैदान पर 111 रन की शतकीय पारी खेली थी. इस मैच में जीत रोहित की वजह से ही मिली थी. अपने इस मैच के लिए रोहित को ‘मैन ऑफ़ द सीरीज’ के ख़िताब से नवाजा गया था. अपने करियर के 43 टेस्ट पारियों में रोहित ने करीब 40 की एवरेज से 1479 रन ही बना सके.

Courtesy

4. पृथ्वी शॉ –

इन दिनों पृथ्वी शॉ अपने रिकार्ड्स तोड़ने की वजह से चर्चा में बने हुए हैं. सचिन तेंदुलकर का रिकॉर्ड तोड़ने की वजह से पृथ्वी चर्चा में बने हैं. पृथ्वी ने अपनी कप्तानी में अंडर-19 विश्व कप में भारत को जीत दिलाई. इसके बाद से पृथ्वी ने वेस्टइंडीज के खिलाफ खेले गए राजकोट के पहले टेस्ट मैच में अपनी पहली पारी में उन्होंने शतक जड दी.

Courtesy

वहीं दूसरी पारी में टीम ने जीत हासिल की. हैदराबाद में खेले गए दूसरे टेस्ट की पहली पारी में पृथ्वी ने 70 रन तो दूसरी पारी में नाबाद 33 रन बनाए. जिसके बाद पृथ्वी को ‘मैन ऑफ द सीरीज’ का ख़िताब मिला था.

Published by Chanchala Verma on 04 Nov 2018

Related Articles

Latest Articles