सबसे बड़ा गोभी उगाने के लिए लिम्का बुक ऑफ़ रिकॉर्ड में दर्ज है इंडिया के जगदीश पारीक का नाम

Get Daily Updates In Email

हमारे देश कृषि प्रधान देश है. किसान देश का सबसे मेहनत करने वाला शख्स भी है. वह हर मौसम, हर दिन और हर त्यौहार के दिन मेहनत करते हैं. यहां हम आपको ऐसे ही एक किसान के बारे में बताने जा रहे हैं जिसने गोभी की एक किस्म उपजाई है जिसकी वजह से उनका नाम लिम्का बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकार्ड्स में दर्ज किया गया है. इस किसान का नाम है जगदीश पारीक जो कि राजस्‍थान के रहने वाले हैं. राजस्थान के सीकर जिले में रहने वाले जगदीश प्रसाद पारीक साल 1970 से खेती कर रहे हैं. उनके खेत उन्हें विरासत में मिले हैं. उन्होंने अपने 2 हेक्टेयर के खेत में अनार, नींबू, बेल और गुलाब के अलावा गोभी की फसल उगाते हैं. इसकी खास बात तो यह है कि वे अपने खेत के लिए खुद ही खाद और बीज भी बनाते हैं.

Courtesy

दरअसल जगदीश की गोभी का साइज़ बाकि गोभियों से काफी ज्यादा बड़ा होता है. जिसकी वजह से उनका नाम गिनिज बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज किया गया है. अपने गांव के नाम पर ही उन्होंने अपनी फूलगोभी का नाम अजीतगढ़ सलेक्शन रखा है. वैसे इसके साइज़ के अलावा इसकी एक और खासियत यह भी है कि इसे गर्म तापमान में भी उगाया जा सकता है. जो कि बीमारी व कीटों के लिए भी प्रतिरोधी क्षमता रखती है. जगदीश की उम्र 70 साल से ज्यादा है. वे कहते हैं कि गिनीज बुक के मुताबिक, अब तक 27.5 किलोग्राम की गोभी का रिकॉर्ड है और मेरी अब तक की उपलब्धि 25.5 किलोग्राम की है. इस फूलगोभी को साल में तीन बार उगाया जा सकता है.

Courtesy

जगदीश साल 1990 से यह गोभी उगा रहे हैं. उन्हें 2001 में ग्रासरूट्स इनोवेशन अवॉर्ड से भी सम्मानित किया गया है. उन्हें इस फूलगोभी की प्रजाति के लिए आईपीआर (इंटेलेक्चुअल प्रॉपर्टी राइट्स) का भी धारक बनाया जा चुका है. अब जगदीश गिनीज बुक में जगह बनाना चाहते हैं. पिछले साल जगदीश ने फूलगोभी के 1 क्विंटल बीज भी बेचे थे. इस बीज की मांग राजस्थान के अलावा गुजरात और महाराष्ट्र जैसे राज्यों में भी अच्छी मांग है.

courtesy

फ़िलहाल जगदीश बीज का पेटेंट लेने के लिए प्रयास कर रहे हैं. जगदीश के इस बिज की जांच जयपुर स्थित कृषि अनुसंधान केन्द्र ने भी की जिसने यह बताया कि जगदीश का बिज 8 अन्य किस्मों में सबसे बेहतर है. जगदीश अपने बीज से बनी गोभी पूर्व राष्ट्रपति शंकर दयाल शर्मा, एपीजे अब्दुल कलाम, प्रणव मुखर्जी, पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, वर्तमान मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सहित पूर्व राज्यपाल मार्गरेट अल्वा को भी गिफ्ट कर चुके हैं.

Published by Chanchala Verma on 15 Nov 2018

Related Articles

Latest Articles