फ़िल्मी किस्से : राज कपूर की फिल्म में थे 2 इंटरवल तो श्रीदेवी बनी थीं रजनीकांत की सौतेली मां

Get Daily Updates In Email

भारतीय सिनेमा में अब तक कई दिग्गज अभिनेताओं ने योगदान दिया है. वर्तमान समय में आज हजारों की तादात में सिनेमा में अभिनेता और अभिनेत्रियां हैं. फिल्मों में नजर आने वाले इन एक्टर्स और एक्ट्रेसेस की आपने अभी तक सिर्फ पर्दे पर दिखने वाली लाइफ देखी होगी. जबकि पर्दे के पीछे की लाइफ इनकी बहुत अलग होती है. वैसे तो बॉलीवुड स्टार्स की छोटी से छोटी बातों को जानने में लोगों की रूचि रहती है. इसलिए आज हम आपको सिनेमा से जुड़े कुछ खास किस्से बताने जा रहे हैं. जो शायद ही अभी तक आपको पता होगें.

मेरा नाम जोकर :

courtesy

भारतीय सिनेमा की फिल्मों में आमतौर पर एक इंटरवल होता है. लेकिन राज कपूर की फिल्म ‘मेरा नाम जोकर’ में एक नहीं बल्कि दो इंटरवल थे. आपको सुनकर आपको भले ही यकीन न हो लेकिन यह बात बिल्कुल सच है.

श्रीदेवी :

courtesy

भारतीय सिनेमा की मशहूर एक्ट्रेस श्रीदेवी भले ही आज हमारे बीच नहीं है. लेकिन उनके द्वारा निभाए गए किरदार लोगों के दिलों में बसे हुए हैं. श्रीदेवी ने भारतीय सिनेमा की सैकड़ों फिल्मों में काम किया है. श्रीदेवी ने मात्र 13 साल की उम्र में अभिनेता रजनीकांत की सौतेली मां का किरदार निभा कर सभी को चौंका दिया था. ये रोल उन्होंने फिल्म ‘मूदरू मोदीचू’ में निभाया था.

रजनीकांत :

courtesy

साऊथ के सुपरस्टार रजनीकांत की स्टाइल की तो दुनिया दीवानी है. उनके एक्शन सीन्स और उनके डॉयलाग बोलने के तरीके से उनके फैन्स सबसे ज्यादा प्रभावित होते हैं. रजनीकांत के डॉयलाग के फैन्स काफी दीवाने हैं. एक डॉयलाग ‘एन्‍ना रास्‍कला’ उनके चाहने वालों ने खुद ब खुद ही बुन डाला है. जबकि यह डॉयलाग रजनीकांत ने कभी बोला ही नहीं है. उनके नाम से यह डॉयलाग साऊथ में काफी फेमस है.

अमजद खान (शोले) :

courtesy

हिंदी सिनेमा के मशहूर अभिनेता अमजद खान ने वैसे तो कई फिल्मों में काम किया था. लेकिन जिस तरह से उन्होंने फिल्म ‘शोले’ में ‘गब्बर’ का किरदार निभाया था. वह वाकई सराहनीय था लेकिन चौंकाने वाली बात तो यह है कि अमजद खान को इस रोल के लिए पहले रिजेक्ट कर दिया गया था. दरअसल जावेद अख्तर ने फिल्म की स्क्रिप्टिंग की थी और उनके अनुसार अमजद खान की आवाज इस रोल के लिए सही नहीं बैठ रही थी. इसलिए उन्होंने अमजद खान को इस रोल से रिजेक्ट कर दिया था. लेकिन जब डैनी डेंजोगपा से इस रोल के लिए बात की तो बात बन नहीं पाई और इस तरह से फिर अमजद खान को इस रोल के लिए चुना गया था.

सुनील दत्त और नरगिस :

courtesy

हिंदी सिनेमा के मशहूर अभिनेता सुनील दत्त ने अपने करियर की शुरुआत आरजे से की थी. वे एक रेडियो सिलोन में काम किया करते थे. फिल्मों में आने से पहले वे अभिनेत्री नरगिस के दीवाने हुआ करते थे. जब एक बार उन्हें नरगिस का रेडियो पर इंटरव्यू लेने का मौका मिला तो वे नरगिस के सामने कुछ बोल ही नहीं पाए थे. इस तरह से इंटरव्यू फिर किसी दूसरे आरजे ने लिया था. फिर एक अरसे के बाद फिल्म ‘मदर इंडिया’ में सुनील दत्त को नरगिस के सामने एक्टिंग करने का मौका मिला था. फिर उन्होंने यह मौका हाथ से जाने नहीं दिया था. और सुनील दत्त ने अपनी प्रेम कहानी को यहां से शुरू कर दिया था बाद में दोनों जीवनसाथी बन गए थे.

Published by Lakhan Sen on 24 Nov 2018

Related Articles

Latest Articles