मैन ऑफ़ द मैच बनने के बाद भी गंभीर ने विराट को सौंप दिया था अपना अवार्ड, सभी से मिली थी तारीफ

Get Daily Updates In Email

बीते मंगलवार को क्रिकेट के महान खिलाडी गौतम गंभीर ने क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से संन्यास लेने का एलान कर दिया है. उन्होंने इस बारे में पहले ट्विटर पर एक ट्वीट के माध्यम से जानकारी दी और इसके बाद एक वीडियो भी शेयर किया. वीडियो में गंभीर कहते हुए नजर आए कि, ‘2014 से ही मुझे लगने लगा था कि करियर खत्म होने वाला है. हालांकि, जोरदार मेहनत कर वापसी की कोशिश की, लेकिन जब इस साल आईपीएल में छह पारियों में फेल हुआ तब मन में संदेह नहीं रह गया था.’

इसके अलावा उनके ट्वीट में भी यह लिखा गया है कि, ‘सबसे कठिन फैसले अक्सर भारी मन से लिए जाते हैं. और एक भारी मन के साथ, मैं एक ऐसा ऐलान करने का फैसला किया है, जो मेरे जीवन का सबसे कठिन फैसला है.’

गंभीर के इस फैसले को सभी सम्मान की नजर से देख रहे हैं. हालांकि सभी इस बात से भी आहत हैं कि 2007 T-20 वर्ल्ड कप और 2011 वर्ल्ड कप में अपनी शानदार परफॉरमेंस से सबका दिल जीतने वाला यह खिलाड़ी अब क्रिकेट फील्ड पर नजर नहीं आएगा.

वैसे तो गंभीर के ऐसे कई किससे हैं जो सबकी जुबां पर है लेकिन आज हम भी आपसे एक अनोखा किस्सा शेयर करने जा रहे हैं. गौतम ने इस दौरान एक ऐसा फैसला किया था जिसे देख सबने उनकी तारीफ की थी. तो चलिए बात करते हैं इस किससे के बारे में:

बात है साल 2009 के दौरान की जब गौतम गंभीर ने अपनी मैन ऑफ द मैच अवार्ड बल्लेबाज विराट कोहली को दिया था. दरअसल हुआ कुछ यूं था कि 24 दिसंबर 2009 में भारत और श्रीलंका के बीच कोलकाता के ईडन गार्डन्स में मैच चल रहा था.

इस मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए श्रीलंका ने 315 रन बनाए थे और इंडिया की तरफ से वीरेंद्र सहवाग और सचिन तेंदुलकर जैसे महान बल्लेबाज खेल रहे थे. लेकिन टीम इंडिया ने महज 10 रनों पर सहवाग और 8 रनों पर सचिन का विकेट खो दिया था. इसके बाद क्रीज पर विराट और गंभीर खेलने उतरे थे. दिल्ली के दोनों बल्लेबाजों ने अपना शानदार प्रदर्शन किया जिसे देख श्रीलंका के खिलाड़ी भी सकते में आ गए.

इस दौरान गंभीर ने 150 रन और विराट कोहली ने 107 रन की पहली सेन्चुरी बनाई थी. दोनों की इस 224 रनों की शानदार पार्टनरशिप की बदौलत टीम इंडिया ने 11 गेंद बाकि रहने से पहले ही जीत को अपने नाम किया.

मैच में गंभीर का प्रदर्शन देखते हुए उन्हें मैन ऑफ द मैच चुना गया था लेकिन गंभीर ने इसे लेने से मना कर दिया और विराट कोहली को मैन ऑफ द अवॉर्ड देने को कहा. इतना ही नहीं उन्हें विराट को वहां बुलाया और विराट ने मैन ऑफ द मैच अवॉर्ड लिया.

Published by Hitesh Songara on 05 Dec 2018

Related Articles

Latest Articles