मैं थिएटर पृष्ठभूमि से आया हूं और इसलिए मेरे विकल्प अलग हैं, फिल्मों के चयन को लेकर बोले आयुष्मान खुराना

Get Daily Updates In Email

हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में कई ऐसे स्टार्स हैं जिन्होंने अपनी एक्टिंग के दम पर अपनी एक अलग ही पहचान बनाई है. आज वे जो कुछ भी हैं अपनी एक्टिंग और अपने फैंस के प्यार के दम पर ही हैं. आज हम एक ऐसे ही स्टार के बारे में बात करने जा रहे हैं जिन्हें हमने अपनी हर फिल्म में कुछ नया करते हुए देखा है. और अपने हर किरदार के साथ ही उन्होंने पूरा न्याय भी किया है. दरअसल हम बात कर रहे हैं बॉलीवुड अभिनेता आयुष्मान खुराना के बारे में.

अब तो आप भी समझ ही गए होंगे कि हम उनके बारे में ऐसा क्यों कह रहे हैं कि आयुष्मान अपने हर किरदार को बड़े ही बखूबी ढंग से निभाते हैं. आयुष्मान के कुछ पुराने प्रोजेक्ट्स की बात करें तो देखने को मिला है कि उन्होंने अपनी पहली फिल्म विक्की डोनर से लेकर अंधाधुन तक हर फिल्म में एक नया किरदार निभाया है.

अपमी फिल्मों को लेकर आयुष्मान का कहना है कि, फ़िलहाल वे जैसी फिल्मों का चयन कर रहे हैं. वे उनके लिए स्ट्रीट थिएटर का विस्तार है. ऐसा इसलिए क्योंकि यह सभी फिल्में थिएटर की तरह ही मनोरंजक और वास्तविक होती हैं. गौरतलब है कि आयुष्मान लम्बे समय तक चंडीगढ़ के डीएवी कॉलेज के थिएटर ग्रुप ‘आगाज’ का हिस्सा रहे हैं.

थिएटर को लेकर आयुष्मान का कहना है कि, ‘मैं थिएटर पृष्ठभूमि से आया हूं और इसलिए मेरे विकल्प अलग हैं. मैंने काफी स्ट्रीट प्ले किए हैं. स्ट्रीट थिएटर निषेध विषयों और सामाजिक मुद्दों से निपटने के बारे में है और मुझे लगता है कि हमारा समूह पहला था जिसने स्ट्रीट थिएटर को मनोरंजक बनाया था.’

गौरतलब है कि आयुष्मान को हम विक्की डोनर में एक मजेदार युवक, दम लगा के हईशा में एक शादीशुदा आदमी, अन्धाधुन में एक अंधे जैसी कई अलग-अलग प्रतिभाओं को दिखाते हुए देख चुके हैं. वहीँ उनका अगला प्रोजेक्ट ड्रीम गर्ल है जिसमें उनका एक नया ही लुक देखने को मिलने वाला है. वहीँ उनकी हालिया रिलीज फिल्म बधाई हो में भी उन्होंने अलग किरदार निभाया था जो कि लोगों को पसंद आया था.

Published by Hitesh Songara on 06 Dec 2018

Related Articles

Latest Articles