बॉलीवुड के पहले सुपरस्टार थे काका उर्फ़ राजेश खन्ना, अपने बंगले को मानते थे फिल्मों के लिए लकी

Get Daily Updates In Email

हिंदी फिल्म इंडस्ट्री के पहले सुपरस्टार राजेश खन्ना का आज जन्मदिन है. राजेश खन्ना ने ‘आराधना’, ‘दो रास्ते’, ‘अमर प्रेम’, ‘प्रेम नगर’, ‘नमक हराम’, ‘अवतार’ जैसी एक से बढ़कर एक फिल्में की जिनकी बदलौत उन्हें सिनेमा का सुपरस्टार कहा जाने लगा. राजेश खन्ना का जन्म 29 दिसंबर 1942 को अमृतसर में हुआ था.

View this post on Instagram

Love💕💕 . . . . #rajeshkhanna #song #lovesong #kaka #king #like #share #follow #instapost #instatags #facebook #likeforlike #followforfollow #likeforfollow #likeforfollowback #happy #commentforcomment #comment #loveyourself

A post shared by Rajesh Khanna (@_._rajeshkhanna_._) on

बहुत ही कम लोगों को पता है कि राजेश खन्ना का असली नाम जतिन खन्ना था. इंडस्ट्री में प्यार से लोग राजेश खन्ना को ‘काका’ के नाम से बुलाते थे. स्कूल के दौरान ही राजेश खन्ना का झुकाव थिएटर की तरफ था. राजेश खन्ना ने अपनी पहली फिल्म ‘आखिरी खत’ की जिसे चेतन आनंद ने डायरेक्ट किया था. इस फिल्म को 40 वें ऑस्कर अवॉर्ड्स में भारत की तरफ से फॉरेन फिल्म की श्रेणी में भेजा गया था.

हालांकि इससे पहले राजेश खन्ना की फ़िल्में असफल भी रहीं. ऐसा कहा जाता है कि उस समय राजेंद्र कुमार की फ़िल्में काफी अच्छी चलती थी और इसके पीछे उनके बंगले को लकी बताया जाता है. इसलिए राजेश खन्ना उसे खरीदना चाहते थे. बाद में राजेंद्र कुमार को फिल्मों में नुकसान झेलना पड़ा और उन्हें यह बंगला बेचना पड़ा.

इसी के साथ राजेश खन्ना ने उनसे यह बंगला खरीद लिया. इतना ही नहीं इसके बाद राजेश खन्ना ने एक साल के अंदर ही 17 फिल्में सुपरहिट दीं. और फिल्म ‘आराधना’ के बाद राजेश खन्ना को पहला सुपरस्टार घोषित कर दिया गया था.

राजेश खन्ना को 2013 में भारत सरकार की तरफ से पद्म भूषण से सम्मानित किया गया. फिल्मों के अलावा उन्होंने राजनीति में भी कदम रखा और कांग्रेस पार्टी के नेता भी बने. उन्होंने 2012 में दुनिया को अलविदा कहा लेकिन आज भी वे अपनी एक्टिंग से लोगों के दिलों में मौजूद हैं.

Published by Yash Sharma on 29 Dec 2018

Related Articles

Latest Articles