नहीं रहे कादर खान, काबुल से मुंबई तक का सफर और तंगहाली में भूखे रहना, ऐसा रहा जिंदगी का सफर

Get Daily Updates In Email

बॉलीवुड के जाने-माने एक्टर और लेखक कादर खान का जन्म काबुल अफगानिस्तान में हुआ था. उनके पिता अब्दुल रहमान खान कंधार के थे तो माता इकबाल बेगर पिशिन से थीं. कादर मूलत: अफगानिस्तान से हैं लेकिन उनकी मां उन्हें एक वर्ष की उम्र में ही मुंबई ले आई थीं. जहां वह झुग्गी-झोपड़ी में रहने लगे थे.

कादर खान ने अपनी पढ़ाई की शुरुआत एक म्युनिसिपल स्कूल से की थी. उसके बाद उन्होंने इस्माइल कॉलेज से अपने ग्रेजुएशन की पढ़ाई पूरी की. उन्होंने इंजीनियरिंग में भी डिप्लोमा कर रखा है साथ ही फिल्म जगत में आने से पहले पहले वह एक कॉलेज में लेक्चरर थे.

कादर खान द्वारा कॉलेज एन ड्रामा करते थे वहीं से उनके फिल्म इंडस्ट्री में आने के आसार जगे. कॉलेज में उनके ड्रामा को देखकर दिलीप कुमार इतने प्रभावित हुए कि उन्होंने कादर खान को अपनी दो फिल्मों सगीना और बैराग के लिए साइन कर लिया.

कादर खान ने अपने फ़िल्मी करियर में अब तक करीबन 300 फिल्मों में अभिनय किया है. कादर खान ने 250 से ज्यादा फिल्मों के अलावा वह 1000 हिंदी व उर्दू फिल्मों का संवाद लेखक भी रह चुके हैं. उन्होंने हिंदी सिनेमा में सबसे ज्यादा फ़िल्में अभिनेता गोविंदा निर्देशक डेविड धवन के साथ की हैं. उन्होंने अपनी फिल्मों में कॉमेडी से विलेन तक सभी किरदारों को निभाया है.

कादर खान टेलीविजन पर एक कॉमेडी शो ‘हंसना मत’ प्रसारित कर चुके हैं. जिसे उन्होंने खुद बनाया था. 2013 में कादर खान को उनके फिल्मों में योगदान के लिए साहित्य शिरोमनी अवार्ड से नवाजा गया. कादर खान 1982 और 1993 में बेस्ट डायलॉग के लिए फिल्म फेयर भी जीत चुके हैं.

View this post on Instagram

कादर खान यांच्या मृत्यूची बातमी खोटी  ज्येष्ठ अभिनेते कादर खान यांची प्रकृती काही दिवसांपासून गंभीर आहे. श्वास घेण्यास त्रास होत असल्याने त्यांना सध्या कॅनडामधील रुग्णालयात दाखल करण्यात आले आहे. अशात रविवारी मध्यरात्रीपासून कादर खान यांच्या निधनाची बातमी सोशल मीडियावर व्हायरल झाली आहे. अनेक चाहत्यांनी त्यांना सोशल मीडियावर श्रद्धांजली वाहिली. मात्र, कादर खान यांच्या निधनाची बातमी चुकीची आणि अफवा असल्याचे मुलगा सरफराज खान यांनी सांगितले. दरम्यान, कादर खान यांच्या प्रकृतीत वेगाने सुधारणा व्हावी, अशी इच्छा बॉलिवूडमधील ज्येष्ठ अभिनेते अमिताभ बच्चन यांनी ट्विटरवर व्यक्त केली आहे. पडद्यावर दमदार अभिनय सादर करणाऱ्या, प्रेक्षकांना खळखळून हसवणाऱ्या ८१ वर्षाय कादर खान यांनी जवळपास ३०० हून अधिक चित्रपटांत काम केले आहे. अभिनेता आणि लेखक म्हणून बॉलिवूडमध्ये त्यांनी चांगलेच नाव कमावले आहे. कादर खान यांनी ‘दाग’ या चित्रपटापासून त्यांच्या अभिनय कारकिर्दीला सुरुवात केली. त्यांनी ‘कुली’, ‘होशियार’, ‘हत्या’ यांसारख्या अनेक चित्रपटांचे लेखन केले.त्यांना त्यांच्या अभिनयासाठी आणि लिखाणासाठी आजवर अनेक पुरस्कार मिळाले आहेत. #kadar #kadarkhan #death #fake #news #bollywood #actor #jansamparknews #sad #virel

A post shared by JANSAMPARK NEWS (@jansamparknews) on

वहीं कादर खान को 1991 को बेस्ट कॉमेडियन का और 2004 में बेस्ट सपोर्टिंग रोल का फिल्म फेयर भी मिल चुका है.

Published by Yash Sharma on 31 Dec 2018

Related Articles

Latest Articles