व्हाइट हाउस पर होने लगा है शटडाउन का असर, मेहमानों को अपने पैसों से फ़ास्ट फ़ूड खिला रहे ट्रम्प

Get Daily Updates In Email

इस बार के सबसे लंबे शटडाउन का असर अब अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के सरकारी आवाज व्हाइट हाउस पर होता दिखाई दे रहा है. बता दें कि व्हाइट हाउस किचन के शेफ छुट्टी पर चले गए हैं जिसका कारण कुछ महीनों से सैलरी का न मिलना है. शेफ के छुट्टी पर चले जाने की वजह से अब ट्रंप को अपने मेहमानों को खिलाने के लिए फ़ास्ट फ़ूड आर्डर करना पड़ रहा है.

Courtesy

जी हां, जिन मेहमानों को ट्रंप ने लंच या डिनर का इनविटेशन पहले से दिया था उन्हें अब वे पिज्जा और बर्गर खिला रहे हैं. यह भी बता दें कि पिछले महीने अमेरिका-मेक्सिको बॉर्डर पर दीवार बनाने के लिए राष्ट्रपति ट्रंप ने संसद से 5.7 बिलियन डॉलर अथवा 40 हजार करोड़ रुपये की मांग की थी. लेकिन राष्ट्रपति की इस मांग को संसद में डेमोक्रेट सांसदों ने ठुकरा दिया और इसके साथ ही अमेरिका में शटडाउन का ऐलान हो गया और यह शटडाउन अमेरिकी इतिहास का सबसे बड़ा शटडाउन हो चुका है.

इस शटडाउन को सोमवार को 22 दिन पूरे हो चुके हैं. इससे पहले राष्ट्रपति बिल क्लिंटन के कार्यकाल में सबसे लंबा शटडाउन हुआ था जो कि 21 दिन तक चला था. एक रिपोर्ट के मुताबिक सोमवार को डोनाल्ड ट्रंप ने अमेरिकी कॉलेज फुटबॉल चैंपियनशिप की विजेता टीम क्लेमसन टाइगर्स को व्हाइट हाउस लंच पर बुलाया था. लेकिन उसी दिन से व्हाइट हाउस किचेन के शेफ छुट्टी पर चले गए और इस वजह से राष्ट्रपति ट्रंप ने व्हाइट हाउस में अपने मेहमानों के लिए पिज्जा, बर्गर और फ्रेंच फ्राइज का अरेंजमेंट किया.

Courtesy

इसकी एक खास बात यह भी थी कि यह सब ट्रंप ने अपने पैसे से ही मंगवाया था. यह भी बता दें कि जब डोनाल्ड ट्रंप ने राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव लड़ा था तब उन्होंने यह वादा किया था कि राष्ट्रपति चुने जाने पर वह पड़ोसी देश मेक्सिको से अमेरिका में अवैध एंट्री करने वालों को रोकने के लिए सरहद पर दीवार का निर्माण कराएंगे. पद मिलने के बाद ट्रंप ने यह काम करने की कोशिश की जिसके लिए उन्होंने संसद से अतिरिक्त बजट की मांग की लेकिन डेमोक्रैट पार्टी के सांसदों ने इसे रोक दिया.

जिसके बाद अमेरिका में शटडाउन शुरू हो गया और इस दौरान सरकारी कर्मचारियों को 22 दिनों का वेतन नहीं दिया जाएगा, जिस वजह से अब इन हजारों की संख्या में सरकारी कर्मचारियों के लिए घर खर्च चलाने की समस्या भी खड़ी हो चुकी है. पिछले हफ्ते आई रिपोर्ट की मानें तो अमेरिका में कुल 8 लाख सरकारी कर्मचारियों का वेतन नहीं मिला जिसके बाद लाखों की संख्या में कर्मचारी छुट्टी पर घर बैठ गए हैं वहीं बाकी बचे लोगों को बिना सैलरी के काम करना पड़ रहा है.

Published by Chanchala Verma on 16 Jan 2019

Related Articles

Latest Articles