पुराने नोटों के बाद अब बदलेगा सिक्कों का स्वरूप, मार्केट में जल्द आएंगे 20 रुपए के सिक्के

Get Daily Updates In Email

“नोट बदलाव के बाद अब सिक्के बदले जाएंगे”. जी हां, आपने सही पढ़ा नोट के बाद अब सिक्कों में बदलाव किया जाने वाला है. सरकार अब जल्द ही पुराने सिक्के बंद करने वाली है. नए सिक्कों के अलावा अब सरकार 20 रुपए का नया सिक्का भी लाने वाली है. बता दें 1 रुपए से लेकर 10 रुपए तक के सिक्कों में भी बदलाव किया जाएगा. जिसके लिए इन सिक्कों के प्रोटोटाइप यानि डिजाइन भी तैयार किए जा चुके हैं. इन प्रोटोटाइप को फाइल करने के लिए आज दिल्ली में बैठक होनी है. जिसमें नई डिजाइन वाले सिक्कों के साथ बीस रुपए के नए सिक्के के लिए भी भारतीय सिक्का अधिनियम 2011 के तहत वैधानिकता के संबंध में अहम निर्णय होंगे. बता दें 20 रुपए का सिक्का अष्टकोणीय आकार का हो सकता है.

Courtesy

दृष्टिबाधित दिव्यांग भी कर पाएंगे आसानी से पहचान –

रिपोर्ट्स के मुताबिक सिक्के इस प्रकार ढाले जाएंगे कि दृष्टिबाधित दिव्यांग इन्हें आसानी से पहचान सकें. भारत सरकार के आर्थिक कार्य विभाग के अनुसचिव ने इस संबंध में पत्र जारी कर सिक्कों की डिजाइन फाइनल करने से संबंधित लोगों की बैठक बुलाई है. बताते चलें इससे पहले भारतीय रिजर्व बैंक बीस रुपए के नोट जारी करने की तैयारी कर रही थी और इसकी डिजाइन भी अंतिम चरण में थी. लेकिन कागज की खपत को देखते हुए फ़िलहाल सिक्कों को ही जारी किया जाएगा.

Courtesy

इससे पहले भारतीय प्रतिभूति मुद्रण तथा मुद्रा निर्माण निगम लिमिटेड (सिक्युरिटी प्रिंटिंग एंड मिंटिंग कारपोरेशन इंडिया लिमिटेड-एसपीएमसीआइएल) ने साल 2011 में सिक्कों की डिजाइन में बदलाव किया था. जिसे ‘भारतीय सिक्कों की नई श्रृंखला 2011’ का नाम दिया गया था. इस समय 50 पैसे से लेकर दस रुपए तक सभी सिक्कों में रुपए चिन्ह शामिल किया गया था. यह भी बता दें कि इस समय भारतीय बाजार सिक्कों के बोझ तले दबा हुआ है. यह भी बताते चलें कि मार्च 2018 तक भारतीय बाजार में कुल 25,600 करोड़ रुपए के सिक्के प्रचलित थे और अब मार्च 2019 तक इसका अनुमान बढ़कर 26 हजार करोड़ रुपए तक बताया जा रहा है.

Courtesy

भारत सरकार से जुड़ी शेप एंड साइज संस्था सिक्कों की डिजाइन के बारे में विशेषज्ञों से सुझाव लेती है. जिसके बाद इनका डिजाइन फाइनल किया जाता है. इनमें मुद्रा, कला, विज्ञान, संस्कृति और समाज से जुड़े विशेषज्ञ शामिल होते हैं. इसके साथ ही नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ़ डिजाइन से भी सुझाव लिए जाते हैं. रिपोर्ट्स की मानें तो नए सिक्कों की डिजाइन में एनआइडी अहमदाबाद ने अहम सुझाव दिए हैं. नए क्लेवर के सिक्के सामाजिकता का संदेश भी देंगे. इनमें भारत सरकार द्वारा चलाए गए सामाजिक सरोकार के अभियानों को शामिल किया गया है.

Published by Chanchala Verma on 17 Jan 2019

Related Articles

Latest Articles