कुम्भ मेले में मुख्य आकर्षण का केंद्र हैं गोल्डन बाबा, 20 किलो सोना और डायमंड घड़ी पहनते हैं बाबा

Get Daily Updates In Email

कुम्भ मेला 2019 का अद्भुत आगाज हो चुका है. इसमें देश-विदेश के कईं साधु-संत शामिल हो रहे हैं. जहां अलग-अलग तरीके के बाबा नजर आ रहे हैं. वहीं एक बार फिर से गोल्डन बाबा ने भी कुम्भ में शिरकत की है. अपने विचित्र परिधान और सोने से लगाव को देखते हुए वह काफी ख्याति प्राप्त कर चुके हैं. करोड़ों रुपए का सोना पहनकर गोल्डन बाबा ने खूब वाहवाही लूटी है.

गोल्डन बाबा का नाम सुधीर मक्कड़ उर्फ बिट्टू है. उन्हें गोल्डन पूरी नाम से भी जाना जाता है. वह जूना अखाड़े से जुड़े हुए हैं. उन्होंने दिल्ली के गांधीनगर में कपड़ा व्यापार और प्रॉपर्टी डीलिंग का काम भी किया है. गौरतलब है कि गोल्डन बाबा हर बार कुंभ में आकर्षण का केंद्र बने रहते हैं. दरअसल वह 20 किलो की गोल्डन ज्वैलरी पहने रखते हैं. इसके अलावा 27 लाख की डायमंड की घड़ी भी पहनते हैं.

बाबा का इस पर कहना है कि जितना प्रेम उन्हें सोने के आभूषणों से है उतना ही प्रेम शिव की आराधना में है. वह पिछले 25 सालों से कांवड़ यात्रा कर रहे हैं. इस बार की कांवड़ यात्रा के दौरान 25 निजी गार्ड हमेशा उनके साथ में चल रहे थे. गोल्डन बाबा के मुताबिक, सोने के आभूषण उनके इष्टदेव की तरह है. इसलिए उन्होंने सोना पहनने के शौक को अपना नियम बना लिया और कांवड़ यात्रा के साथ-साथ सोने के आभूषणों का वजन भी बढ़ाते चले गए.

पिछले साल उन्होंने 14.5 किलो सोना पहनकर कांवड़ यात्रा की थी. लेकिन अब पिछली बार का रिकॉर्ड तोड़ते हुए उन्होंने 20 किलो सोना पहना है. उनके गहनों में 25 सोने की चेन हैं जिनमें प्रत्येक कम से कम 500 ग्राम वजनी है. इसके साथ ही 21 सोने के लॉकेट, सोने के दस्तबंद और रोलेक्स की घड़ी है. हर साल सोना बढ़ने के पीछे गोल्डन बाबा का कहना है कि भगवान की कृपा से उनका सोना हर साल बढ़ रहा है. वह काफी समय से कांवड़ यात्रा कर रहे हैं और उनके कई निजी गार्ड उनके साथ रहते हैं.

Published by Yash Sharma on 19 Jan 2019

Related Articles

Latest Articles