बीते साल में बढ़ गए देश में अमीर लोग, अगले 4 साल में भी हर रोज बढ़ेंगे 70 नए करोड़पति

Get Daily Updates In Email

देश में जहां एक तरफ कई अमीर लोगों की आबादी है वहीं दूसरी ओर गरीबी भी बढती जा रही है. पिछले वर्ष भारत के करोड़पतियों की आय पर नजर डालें तो इसमे 2200 करोड़ की बढ़ोतरी हुई है. देश के शीर्ष एक फीसदी अमीर लोगों की आय में 39 फीसदी की बढ़ोतरी देखने को मिली है. जबकि देश की आधी आबादी की आय पर नजर डालें तो उसकी आय में महज 3 फीसदी की बढ़ोतरी देखने को मिली है. यह तथ्य ऑक्सफैम के शोध में सामने आया है.

View this post on Instagram

Another successful client who learned how to earn cash in timely manner and turn their hundreds in thousands dollars within 7 days of trading from a well Guarantee platform. Invest with me now and say yes to your financial life DM me for updates on how to trade wisely,am a binary trade expert and I help individual trade for a fixed amount. Trade with me and make huge profits after trading. #suitup #classy #investment #lifestlye. #bitcoin#litecoin #invest #investing #crypto #cryptocurrency#broker #stocks #marketing #brand #logo #futures#predictions #earnings #earn #lifestyle #rich#getrichordietryin #passiveincome #travel #explore#live #adventure #lifestlye #trip

A post shared by Wilson Ella (@wilsonella370) on

रिपोर्ट के मुताबिक वैश्विक स्तर पर 2018 में एक दिन में 12 फसीदी या 2.5 बिलियन डॉलर बढ़ी. जबकि दुनिया की सबसे गरीब आधी आबादी की संपत्ति में 11 फीसदी की गिरावट देखी गई. इस रिपोर्ट के मुताबिक भारत की आबादी में 10 फीसदी यानी 13.6 करोड़ लोग आज भी कर्जदार हैं. वहीं 10 फीसदी लोगों के पास देश की कुल संपत्ति का 77.4 फीसदी है.

View this post on Instagram

Les plus grosses fortunes du monde continuent d’accumuler de la richesse. En 2018, ils ont accentué leur accumulation de richesse, ce qui fait que les 26 premiers milliardaires détiennent désormais autant d'argent que la moitié la plus pauvre de l'humanité, d'après l'ONG Oxfam. Selon les chiffres de l'ONG, 26 personnes disposent désormais d'autant d'argent que les 3,8 milliards les plus pauvres de la planète. En 2017, ils étaient au nombre de 43. La méthodologie de l’ONG, qui se base sur les données de Forbes et de Crédit, est toutefois contestée par les économistes. D’après #oxfam , la fortune des milliardaires dans le monde a augmenté de 900 milliards de dollars en 2017, soit au rythme de 2,5 milliards par jour, alors que celle de la moitié la plus pauvre de la population de la planète a chuté de 11%.

A post shared by BVTimes (@thebvtimes_fr) on

इनमें से एक फीसदी लोगों के पास कुल 51.53 फीसदी संपत्ति है. जबकि 60 फीसदी लोगों के पास महज 4.8 फीसदी संपत्ति है. रिपोर्ट के मुताबिक 2018 से 2022 के बीच भारत में रोजाना 70 अमीर बढ़ेंगे. 2018 में भारत में करीब 18 नए अरबपति बने हैं और साथ ही देश में अब इनकी कुल संख्या 119 हो गई है. इनके पास कुल 28 लाख करोड़ की संपत्ति है. रिपोर्ट के अनुसार दुनिया के सबसे अमीर शख्स और अमेजन के संस्थापक जेफ बेजोस की संपत्ति बढ़कर 112 अरब डॉलर हो गई. उनकी संपत्ति का महज एक फीसद हिस्सा यूथोपिया के स्वास्थ्य बजट के बराबर है.

आक्सफैम ने दावोस में मंच की इस सालाना बैठक के लिए जुटे दुनियाभर के राजनीतिक और व्यावसायिक नेताओं से आग्रह किया है कि वे अमीर और गरीब लोगों के बीच बढ़ रही खाई को कम करने के लिए तत्काल कदम उठाएं. ऑक्सफैम के एग्जेक्युटिव डायरेक्टर विनी ब्यानिमा का कहना है कि कुछ चुनिंदा अमीर लोगों की आय भारत में बहुत ज्यादा बढ़ी है. जबकि देश में साथ में गरीबी भी अभी बढती जा रही है. इसके लिए लोगों को आगे आकर इस समस्या का हल निकालना होगा.

Published by Yash Sharma on 21 Jan 2019

Related Articles

Latest Articles