भारतीय नागरिकों को मिलेगी चिप आधारित ई-पासपोर्ट की सुविधा, इसी साल से शुरू होगी यह प्रक्रिया

Get Daily Updates In Email

पीएम मोदी ने प्रवासी भारतीय दिवस के मौके पर कहा कि सरकार जल्द ही चिप वाला पासपोर्ट लेकर आने वाली है. बता दें कि विदेश मंत्रालय ने इंटरनेशनल सिविल एविएशन ऑर्गनाइजेशन से सहमति मिलने के बाद ई-पासपोर्ट जारी करने की तैयारियां शुरू कर दी है. ई-पासपोर्ट में लगी एक छोटी से चिप में पासपोर्ट धारक की पूरी डिटेल मौजूद होगी. लोगों को यह ई-पासपोर्ट दिसंबर 2019 तक मिलने लगेगा. पहले इसे ट्रायल बेस पर जारी किया जाएगा बाद में कमर्शियल रूप में लोगों को मिलेगा.

बुधवार को पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि सरकार एक सेंट्रलाइज्ड पासपोर्ट सिस्टम पर काम कर रही है. जिसके तहत दुनियाभर में दूतावासों और भारतीय राजदूतावासों से ही सभी पासपोर्ट सेवाएं मुहैया कराई जाएंगी. मोदी ने वाराणसी में हो रहे प्रवासी भारतीय दिवस 2019 के उद्घाटन समारोह में कहा कि, ‘ दुनियाभर के भारतीय राजदूतावासों और दूतावासों को पासपोर्ट सेवा प्रॉजेक्ट से जोड़ा जा रहा है.’  उन्होंने कहा, ‘यह सभी के लिए पासपोर्ट सेवा से जुड़ा एक केंद्रीकृत प्रणाली तैयार करेगा. इससे एक कदम आगे बढ़ते हुए, चिप आधारित ई-पासपोर्ट के लिए काम किया जा रहा है.’

पीएम मोदी ने अपने भाषण में यह भी कहा कि, ‘सरकार PIO यानी पर्सन ऑफ इंडियन ओरिजिन और OCI यानी ओवरीज सिटीजन ऑफ इंडिया कार्ड्स के लिए वीजा जारी करने की प्रक्रिया को आसान करने पर काम कर रही है. विदेश मंत्रालय के अनुसार इसके टेंडर की प्रक्रिया शुरू हो गई है. ई-पासपोर्ट की मैन्‍युफैक्‍चरिंग नासिक के इंडियन सिक्‍योरिटी प्रेस में होगी.

ई-पासपोर्ट वर्तमान पासपोर्ट की तरह ही होंगे. इसमें एक चिप लगी होगी. जिसमें पासपोर्ट अधिकारी के डिजिटल सिग्नेचर के अलावा पासपोर्ट धारक का नाम, जेंडर, डेट ऑफ बर्थ और एक डिजिटल फोटो होगी. वहीं पासपोर्ट में मौजूद चिप में धारक की उंगलियों के निशान भी शामिल होंगे.

बता दें इस सम्मेलन में मॉरीशस के प्रधानमंत्री प्रविंद जगनाथ समारोह के मुख्य अतिथि हैं. उन्होंने प्रवासियों तक पहुंचने के भारत के प्रयासों की सराहना की. वहीं विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने लोगों का अभिवादन किया. विदेश मंत्रालय और उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा आयोजित भारतीय प्रवासी सम्मेलन में इस वर्ष 5,000 प्रतिनिधियों ने अपना पंजीकरण करवाया है.

Published by Yash Sharma on 24 Jan 2019

Related Articles

Latest Articles