कुम्भ में चल रहा दूसरा शाही स्नान, फ्रांस के डेनियल बाबा बने आकर्षण

Get Daily Updates In Email

मकर संक्रांति से शुरू हुए प्रयागराज कुम्भ मेले में आज यानि सोमवार को दूसरा शाही स्नान है. जिसमें कई तरह के श्रद्धालु और साधू-संत स्नान के लिए पहुंचे हैं. मौनी अमावस्या पर देश-विदेश के करोड़ो भक्तों की भीड़ कुम्भ में देखने को मिल रही है और लोग स्नान का आनंद ले रहे हैं. कुंभ में जहां हर जगह नए बाबा आकर्षण का केंद्र बने हुए हैं,  ऐसे में उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में स्थित कुम्भ मेले में एक फ्रांसीसी शख्स चर्चा में आ गया है. दीक्षा लेकर हिंदु साधु बना यह फ्रांसीसी नागरिक प्रयागराज में ‘डेनियल बाबा’ के नाम से मशहूर हो गया है.

courtesy

डेनियल बाबा फ्रांस के रहने वाले हैं. वह करीब 30 साल पहले शांति की तलाश में भारत आए थे और यहीं के होकर रह गए. जब वह पहली बार भारत आए थे तो उन्हें यहां के बारे में कुछ भी पता नहीं था. लेकिन बाद में वह निरंजनी अखाड़े के देवगिरी संत के संपर्क में आए और उन्हें सनातनी धर्म और अखाड़े की दिनचर्या ने इतना प्रभावित किया. और इसी के साथ उन्होंने यहीं पर रहने का फैसला कर लिया.

courtesy

इतना ही नहीं डेनियल ने अपना नाम बदलकर भगवान गिरी रख लिया. अब वह अपनी पिछली जिंदगी के बारे में कोई बात नहीं करना चाहते. डेनियल अब साधु जीवन का पालन कर रहे हैं. वह योग करते हैं, ध्यान लगाते हैं और भजन भी करते हैं. इतने सालों में वह टूटी फूटी हिंदी भी बोलने लगे हैं. डेनियल आनंद अखाड़े से जुड़े हैं. डेनियल भगवान गिरी ने कहा, ‘मैं सनातन धर्म से प्यार करता हूं, यह बहुत शांतिप्रिय है. हम एक ईश्वर में विश्वास करते हैं. एक ही ईश्वर को हम कई नामों से जानते हैं.’

courtesy

देवगिरी बाबा महाराज के अनुयायी डेनियल भगवानगिरी गेरुआ रंग के वस्त्र धारण करते हैं और अपने माथे पर हल्दी लगाते हैं. आनंद अखाड़ा के एक अन्य साधु लक्ष्मण गिरी ने कहा कि, डेनियल की दिनचर्या में योग, भजन और ध्यान शामिल है. फ्रेंच बाबा के नाम से मशहूर डेनियल कुम्भ में पूरा समय हिस्सा लेंगे और कुम्भ खत्म होने तक यही रहेंगे.

बता दें कुम्भ की शुरुआत 15 जनवरी को शाही स्नान के साथ हुई थी. जिसमें रिकॉर्ड करोड़ो लोगों ने हिस्सा लिया था. यह कुम्भ 4 मार्च यानी महाशिवरात्रि तक चलेगा.

Published by Yash Sharma on 04 Feb 2019

Related Articles

Latest Articles