पुलवामा: सहवाग ने जताई शहीदों के बच्चों की पढ़ाई का पूरा खर्च उठाने की इच्छा, रिलायंस भी आया आगे

Get Daily Updates In Email

पुलवामा में हुए आतंकी हमले से पूरा देश सक्ते में है. देश की पूरी जनता सिर्फ इंसाफ ही मांग रही है. इसी बीच कई लोग शहीद हुए सैनिकों के परिवार वालों की मदद के लिए आगे आ रहे हैं. ऐसे में भारतीय क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग भी पुलवामा में हुए आतंकी हमले में शहीद सीआरपीएफ के जवानों के परिवार की मदद के लिए आगे आए हैं. जी हां. सहवान ने हाल ही में ट्वीट करते हुए इस बात की इच्छा जताई है कि वे आतंकी हमले में शहीद हुए सभी 40 जवानों के बच्चों की पढ़ाई का खर्चा उठाना चाहते हैं.

ट्वीट करते हुए सहवाग ने लिखा, ‘हम जो भी कुछ करेंगे वह पर्याप्त नहीं होगा, लेकिन मैं झज्जर स्थित अपने सहवाग इंटरनेशनल स्कूल में पुलवामा में शहीद हुए सीआरपीएफ के सभी जवानों के बच्चों की पूरी शिक्षा का जिम्मा उठा सकता हूं. सौभाग्य होगा.’

इससे पहले आतंकी हमले की खबर सुनते ही उस पर दुःख जाहिर करते हुए और शहीदों को श्रद्धांजलि देते हुए ट्वीट करते हुए लिखा था, ‘जम्मू-कश्मीर में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए कायरतापूर्ण हमले में हमारे बहादुर जवानों की शहादत वास्तव में बहुत पीड़ादायक है. इस दु:ख को बयां करने के लिए मेरे पास शब्द नहीं हैं. मैं हमले में घायल हुए लोगों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना करता हूं.’

एक तरफ जहां विजेंदर शहीदों के बच्चों की पढ़ाई का खर्च उठाने की बात कर रहे हैं तो दूसरी तरफ मुक्केबाज विजेंदर सिंह ने शहीदों के परिजन को अपना एक महीने का वेतन देने की घोषणा की है. गौरतलब है कि ओलम्पिक विजेता विजेंदर हरियाणा पुलिस में अधिकारी हैं. इस बात की जानकारी देते हुए विजेंदर ने ट्वीट किया था, ‘पुलवामा आतंकी हमले में शहीद हुए जवानों के लिए मैं अपना एक महीने का वेतन दान करता हूं. मेरी सभी से अपील है कि वे शहीदों के परिजन की मदद के लिए आगे आएं. उनके साथ खड़े रहना और उनके बलिदान पर गर्व करना हमारा नैतिक दायित्व है. जय हिंद.’

इसके अलावा और भी कई लोग सीआरपीएफ के जवानों की मदद कर रहे हैं. वहीं इस घड़ी में शहीद हुए जवानों के परिवारों की मदद के लिए रिलायंस फाउंडेशन भी आगे आया है. रिलायंस का कहना है कि वह उन बच्चों की पढ़ाई और रोजगार का जिम्मा उठाएगा. इसके साथ ही पीड़ितों के परिवारों की आजीविका का भी इंतजाम करेगा.

Published by Chanchala Verma on 16 Feb 2019

Related Articles

Latest Articles