पुलवामा : AICWA का फरमान, हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में काम नहीं करेंगे पाकिस्तानी कलाकार

Get Daily Updates In Email

ऑल इंडिया सिने वर्कर्स एसोसिएशन (AICWA) ने पुलवामा में हुए घातक आतंकवादी हमले के बाद सोमवार को भारत में पाकिस्तानी अभिनेताओं और कलाकारों पर पूर्ण प्रतिबंध लगाने की घोषणा की. जानकारी के लिए आपको बता दें कि, कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी को हुए आतंकी हमले में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRFF) के 40 जवानों की जान चली गई थी.

AICWA के जनरल सेक्रेटरी रौनक सुरेश जैन की ओर से जारी नोटिस में कहा गया है, ‘एसोसिएशन, जम्‍मू-कश्‍मीर के पुलवामा जिले में हमारे जवानों पर हुए हमले की कड़ी निंदा करता है. पीड़ित परिवारों के साथ हमारी संवेदना है. ऐसे आतंक के खिलाफ एसोसिएशन राष्‍ट्र के साथ है.’

सोमवार दोपहर एक पत्र में, AICWA ने कहा कि वे ‘पाकिस्तानी अभिनेताओं और फिल्म उद्योग में काम करने वाले कलाकारों’ पर पूर्ण प्रतिबंध लगाने की घोषणा करते हैं. आगे पत्र में कहा गया है कि, “फिर भी अगर कोई भी संगठन पाकिस्तानी कलाकारों के साथ काम करने के लिए जोर देता है तो एआईसीडब्ल्यूए द्वारा उस पर प्रतिबंध लगा दिया जाएगा और उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी. ”

AICWA पत्र में लिखा है, “ऑल इंडियन सिने वर्कर्स एसोसिएशन जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हमारे सैनिकों पर क्रूर आतंकवादी हमले की कड़ी निंदा करता है. पीड़ितों के परिवारों के लिए हमारी संवेदना. AWCWA ऐसे आतंक और अमानवीयता का सामना करने के लिए एसोसिएशन राष्ट्र के साथ खड़ा है.”

courtesy

एक इंटरव्यू में फेडरेशन ऑफ वेस्टर्न इंडिया सिने इम्प्लॉईज (एफडब्ल्यूआईसीई) के मुख्य सलाहकार अशोक पंडित ने कहा कि, “एफडब्ल्यूआईसीई पाकिस्तानी कलाकारों के साथ काम करने की जिद करने वाले फिल्म निर्माताओं पर प्रतिबंध लगाएगा. हम इसकी आधिकारिक घोषणा कर रहे हैं. सीमा पार से हमारे देश पर बार-बार हमले होने के बावजूद पाकिस्तानी कलाकारों के साथ काम करने की जिद करने वाली संगीत कंपनियों को शर्म आनी चाहिए. चूंकि उन्हें कोई शर्म नहीं है तो हमें उन्हें पीछे हटने के लिए मजबूर करना होगा.”

courtesy

आगे उन्होंने कहा, “जम्मू एवं कश्मीर के बाहर से हम जितने नुकसान का अंदाजा लगा सकते हैं, नुकसान उससे कई गुना ज्यादा है. इसकी भरपाई में सालों लगेंगे.एक व्यक्ति इतना ज्यादा आरडीएक्स लेकर जम्मू एवं कश्मीर में छिपकर कैसे आ सकता है? ऐसे समय में जब आतंकवादी हमले इतने ज्यादा हो गए हैं तब यह सोचना मुश्किल है कि हमारे मनोरंजन उद्योग में कुछ लोग कलाकारों के लिए पाकिस्तान की तरफ देख रहे हैं.” उन्होंने कहा, “किस तरह की असुरक्षा उन्हें इस स्वार्थ के लिए प्रेरित करेगी? जो भी हो, अब इसे रुकना होगा.”

Published by Lakhan Sen on 18 Feb 2019

Related Articles

Latest Articles