पीएम मोदी को द. कोरिया में मिला सियोल शांति पुरुस्कार, नमामि गंगे प्रोजेक्ट में दान की धनराशि

Get Daily Updates In Email

देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी इन दिनों दक्षिण कोरिया की यात्रा पर गए हैं. दक्षिण कोरिया की राजधानी सियोल में मोदी को शांति पुरुस्कार से भी सम्मानित किया गया. उन्हें साल 2018 का सियोल शांति सम्मान प्रदान किया गया. यह पुरस्कार राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मोदी के योगदान को मान्यता प्रदान करने को लेकर है.

सियोल शांति पुरस्कार पाने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भारत के पहले व्यक्ति हैं. प्रधानमंत्री मोदी का इस पुरस्कार के लिए चुनाव 1300 लोगों में से हुआ है. सियोल शांति पुरस्कार की शुरुआत 1990 में हुई थी. इसके साथ पीएम को 1 करोड़ 30 लाख रुपए भी मिले जिसे उन्होंने नमामी गंगे प्रॉजेक्ट के लिए दिया.

प्रधानमंत्री मोदी को उनकी आर्थिक नीतियों, ‘एक्‍ट ईस्‍ट’ नीति और व‍िकासोन्‍मुखी कार्यों के लिए यह सम्‍मान दिया गया है. पीएम मोदी ने इसे 130 करोड़ भारतीयों का सम्मान बताया है. पीएम मोदी से पहले यह पुरस्‍कार संयुक्‍त राष्‍ट्र के पूर्व महासचिवों कोफी अन्‍नान और बान की-मून को भी मिल चुका है.

पीएम मोदी ने कहा है कि वह पुरस्कार में मिली एक करोड़ से ज्यादा की राशि को नमामि गंगे परियोजना को समर्पित कर देंगे. उन्होंने कहा कि हम गांधी जी की शिक्षा पर आगे बढ़ रहे हैं. भारत का आर्थिक विकास दुनिया के लिए बेहतर है. मुझे इस बात की खुशी है कि यह पुरस्कार मुझे उस साल मिल रहा है जिस साल हम महात्मा गांधी की 150वीं जयंती मना रहे हैं.

View this post on Instagram

#narendramodi #swachhbharat

A post shared by Narendra_Modi_Fc (@narendra_modi_fanc) on

नरेंद्र मोदी ने कहा कि भारत के विकास की कहानी न सिर्फ हमारे लिए अच्छी है बल्कि पूरी दुनिया के लिए फायदेमंद है. उन्होंने कहा कि भारत जलवायु परिवर्तन के खिलाफ वैश्विक लड़ाई में सक्रिय भूमिका निभा रहा है. हमने संघर्ष क्षेत्रों में न केवल अपने लोगों को बल्कि विभिन्न देशों के नागरिकों को बचाने के लिए सफल ऑपरेशन चलाए हैं.

पीएम मोदी ने इस दौरान स्वच्छ भारत, उज्ज्वला योजना, जनधन खातों, आयुष्मान भारत जैसी योजनाओं का जिक्र भी किया. पुरस्कार से नवाजने से पहले कार्यक्रम में पीएम मोदी की उपलब्धियों के बारे में भी बताया गया. बता दें इस अवार्ड के लिए दुनियाभर से कुल 1300 नामांकन आए थे. अवॉर्ड कमेटी ने उनमें से 150 उम्मीदवारों को अलग किया गया. इन 150 उम्मीदवारों में से प्रधानमंत्री मोदी का चयन किया गया.

Published by Yash Sharma on 22 Feb 2019

Related Articles

Latest Articles