इंटरव्यू के दौरान विद्युत जामवाल ने बताए ‘जंगली’ फिल्म के लिए किए सबसे कठिन स्टंट्स

Get Daily Updates In Email

बॉलीवुड में कई स्टार्स ऐसे हैं जो कि अपने स्टंट्स के लिए खूब पसंद किए जाते हैं ऐसे स्टार्स में विद्युत जामवाल का नाम भी शामिल है. एक्टर की फिल्म ‘जंगली’ जल्द ही रिलीज़ होने वाली है. फिल्म का ट्रेलर भी रिलीज़ किया जा चुका है. जिसमें विद्युत खतरनाक स्टंट करते हुए नजर आ रहे हैं. इस फिल्म की कहानी एक इंसान और जानवर की दोस्ती पर आधारित है. जिसमें कई एक्शन सीन्स फिल्माए गए हैं.

हाल ही में एक इंटरव्यू के दौरान विद्युत ने खुद यह बताया कि इस फिल्म के पांच ऐसे स्टंट सीन्स हैं जो कि उन्होंने खुद किए हैं और जिनमें ज़रा सी चूक उनकी जान ले सकती थी. एक सीन के बारे में बात करते हुए विद्युत ने कहा, ‘बंधे हाथों से हवा में एक्शन करना फिल्म का एक महत्वपूर्ण सीन है. मुझे एक ऐसा स्टंट डिजाइन करना था जिसमें मुझे अपने शरीर का संतुलन बिना गिरे तैयार करना था और तीन लोगों को मारना भी था. ये सीन एक मेज के करीब होना था तो मैंने इसे संतुलन बनाने के लिए इस्तेमाल करने का फैसला किया.’

‘हवा में टिकने के लिए मैंने अपने सामने खड़े शख्स के सीने पर पैर जमाकर दूसरे तक पहुंचने के लिए स्टंट किया. यहां दिक्कत ये थी कि मुझे बिना इस शख्स पर जानलेवा हमला किए दूसरे तक पहुंचना था. टाइमिंग के साथ साथ हाथों और पैरों की टाइमिंग इस सीन में बहुत मुश्किल काम रहा.’

दूसरा खतरनाक सीन था कार के अंदर से उलटी गुलाटी. विद्युत ने बताया, ‘ये एक्शन सीन मुझे कार के भीतर से करना था. पहले की फिल्मों में कार की खड़कियों से तमाम अलग अलग तरीकों से बाहर आ चका हूं. यहां मैंने कुछ अलग करने का फैसला किया और यह अलग बात थी कार के भीतर से पीठ की तरफ से गुलाटी मारकर बाहर आना. ये बहुत मुश्किल शॉट इसलिए था कि कार की खिड़की वैसे ही बहुत छोटी होती है और इसमें से बाहर आते वक्त मुझे पीछे देखना भी नहीं था. तमाम गुणाभाग करने के बाद मैंने ये स्टंट किया. अब परदे पर ये सीन देख मुझे खुद पर गर्व होता है.’

दोनों हाथों से तलवारबाजी करना इस फिल्म का तीसरा खतरनाक स्टंट था. विद्युत ने बताया, ‘भारत की मशहूर मार्शल आर्ट्स कला कलारिपयट्टू में पूरे शरीर का इस्तेमाल करना होता है. जो काम आप दाहिने हाथ से करते हैं, वही काम आपको बाएं हाथ से भी करना आना चाहिए. इस करतब के पीछे ये विचार काम करता है कि इंसान अपने दिमाग के दोनों हिस्सों का बराबर इस्तेमाल कर सकता है. इस सीन में मेरे दोनों हाथों में तलवारें हैं और दोनों तलवारें मुझे एक ही गति से भांजनी थीं.’

View this post on Instagram

Happy being #JUNGLEE…TRAILER ON 28th feb 19

A post shared by Vidyut Jammwal (@mevidyutjammwal) on

चौथा खतरनाक सीन था जब मैं बाइक पर हूं और विलेन मुझे पर तलवार से वार करता है. इससे बचने के लिए मुझे चलती मोटरसाइकिल से उलटी गुलाटी मारकर बाइक के पीछे जमीन पर आना था. इसे करना बहुत ही मुश्किल रहा, कभी मैं बाइक समेत गिर जाता था या फिर कभी दाएं तो कभी बाएं गिर जाता था. फिर मैंने हवा में गुलाटी ट्राई की और मामला बन गया. पूरा सीन करने में मुझे 30 बार यही सीन दोहराना पड़ा तब जाकर ये सीन परफेक्ट हो सका.’

पांचवा खतरनाक सीन था तीसरी मंजिल से छलांग मारना. विद्युत ने बताया, ‘वैसे तो मैं कभी फिल्म की शूटिंग में अपने स्टंट करने से पीछे नहीं हटता लेकिन जितनी गहरी चोट मुझे ‘जंगली’ में ये स्टंट करते लगी वैसी पहले कभी नहीं लगी. गलती मेरी ही थी कि मैंने छलांग की टाइमिंग का सही तरीके से हिसाब नहीं लगाता. मैं नीचे गिरा तो मेरे सिर से वहां मौजूद लोहे की रॉड टकरा गई. लोगों को समझ ही नहीं आया कि हुआ क्या. मैं पांच मिनट तक हवा मे लटका रहा फिर मेरे सिर से निकलती खून की तेज धार देखकर सब भागे. मुझे अस्पताल पहुंचाया गया और मेरे सिर पर टांके लगे. लेकिन हमें ये सीन उसी दिन खत्म करना था तो मैं तबीयत ठीक होते ही वापस सेट पर लौटा और उसी हालत में ये सीन पूरा किया.’

Published by Chanchala Verma on 23 Mar 2019

Related Articles

Latest Articles