जॉन के पासपोर्ट को देखकर किसी ने बनाया था उनका मजाक, एक्टर ने जताया भारतीय होने पर गर्व

Get Daily Updates In Email

बॉलीवुड स्टार जॉन अब्राहिम अपनी अनोखी फिल्मों को लेकर अक्सर चर्चा में रहते हैं. उनकी फ़िल्में देशभक्ति से ओत-प्रोत रहती हैं. साथ ही उनकी आने वाली फिल्म रॉ भी इसी पर आधारित है. हाल ही में जॉन ने बताया कि कहीं पर उन्हें किसी ने स्लमडॉग मिलिनेयर बुलाया था. इसका पूरा किस्सा उन्होंने एक इंटरव्यू के दौरान बताया.

उन्होंने बताया कि, ‘मुझे लगता है कि हम अब उस बदलाव को बनाने में अच्छा काम कर रहे हैं. मुझे भारतीयता की भावना में कुछ भी गलत नहीं दिखता है जो हमारे देश में हो रहा है. और मैं एक ऐसी पीढ़ी से आया हूं जहां मैंने लोगों को भारतीय पासपोर्ट को बदलते हुए देखा है. क्योंकि वह यह कहने में शर्मिंदा थे कि वह भारतीय थे. आज वही व्यक्ति इसे वापस बदल देगा.

जॉन ने आगे बताया कि, ‘एक बार मेरे पासपोर्ट को देखकर किसी ने स्लमडॉग मिलेन‍ियर कहा था.’ जॉन ने बताया, ‘यह सुनने के बाद मैंने उसे जवाब दिया मिलेन‍ियर नहीं. लेक‍िन मैं तुम्हें खरीद सकता हूं और मेरा देश तुम्हें आज ही खरीद सकता है. हम रूल करते हैं, हमारा देश रूल करता है.’ जॉन से पूछा गया कि क्या वह जानबूझ कर ऐसी फिल्मों का चयन कर रहे हैं तो उन्होंने कहा, ‘यह अपने आप हो रहा है, किसी डिजाईन से नहीं. अगर कोई देशभक्ति की भावना है तो मैं खुश हूं.’

View this post on Instagram

My Bailey, my bike… my sanity.

A post shared by John Abraham (@thejohnabraham) on

उन्होंने आगे कहा, ‘अगर दूसरे देश अपने सैनिक, सरकार और देश का इतनी बढ़ा-चढ़ाकर कर बात कर सकते हैं, तो हम अपने देश के लिए सबसे अच्छे तरीके से ऐसा क्यों नहीं कर सकते हैं जो हमारे युवा हमारे देश को देखना चाहते हैं. ‘रॉ’ जैसी फिल्में इसका जवाब हैं, जहां आप बाहर आते हैं और कहते हैं एक एजेंट होना कितना कूल है, लेकिन यह कठिन है और यही आपको करना है’.

बता दें 1968-71 के समय में निर्धारित, ‘रॉ-रोमियो अकबर वॉल्टर’ सच्ची घटनाओं पर आधारित है. फिल्म में जॉन के अलावा मौनी रॉय, सुचित्रा कृष्णमूर्ति, सिकंदर खेर और रघुबीर यादव भी हैं. फिल्म 12 अप्रैल को रिलीज़ हो रही है.

Published by Yash Sharma on 03 Apr 2019

Related Articles

Latest Articles