कई बार अपने सांवले रंग के कारण नवाज़ को धोना पड़ा फिल्मों से हाथ, निर्देशक लगाते थे एक्स्ट्रा लाइट

Get Daily Updates In Email

बॉलीवुड के बेहतरीन अभिनेता नवाजुद्दीन सिद्दीकी इन दिनों हर किसी निर्देशक की पहली पसंद बन गए हैं. लेकिन एक समय ऐसा भी था जब वह अपने सांवले रंग के कारण कई बार शर्मिंदगी झेल चुके हैं. नवाज की माने तो कई बार उन्हें किसी प्रोजेक्ट से सिर्फ इसलिए भी निकाल दिया जाता था, क्योंकि निर्देशक को उनके लिए एक्स्ट्रा लाइट लगानी पड़ती थी.

वैसे बॉलीवुड में अपने रंग को लेकर कई सितारों को फिल्मों से बाहर किया गया है. नवाज़ ने बहुत समय पहले एक ट्वीट किया था जिसमें उन्होंने कहा था कि, ‘मुझे गोरे और सुंदर लोगों के साथ फिल्म में नहीं लिया जा सकता क्योंकि मैं सांवला हूं और सुंदर नहीं दिखता.’ इस ट्वीट को लेकर हाल ही में अरबाज ने अपने शो पर नवाज़ से कई सवाल किए. जिसके जवाब देकर नवाज़ ने कई तरह के खुलासे भी किए हैं.

उन्होंने बताया की फिल्म बाबूमोशाय बंदूकबाज़ के दौरान फिल्म के कास्टिंग डायरेक्टर ने उनके रंग को टिप्पणी की थी जिसे लेकर उन्होंने यह ट्वीट किया था. फिल्म के डायरेक्टर ने एक साक्षात्कार में कहा था कि चित्रांगदा के फिल्म छोड़ने के बाद उन्होंने नई अभिनेत्री की तलाश की जो नवाज़ के लुक्स और व्यक्तित्व के साथ ठीक लगे. उन्होंने कथित तौर पर कहा था, ‘हम नवाज़ के साथ गोरे और सुंदर लोगों को कास्ट नहीं कर सकते. यह बहुत ख़राब लगेगा. उनके साथ जोड़ी बनाने के लिए आपको अलग नैन नक्श और व्यक्तित्व वाले लोगों को लेना होगा.’

बॉलीवुड एक्टर नवाजुद्दीन सिद्दीकी हर रोल में आसानी से फिट हो जाते हैं. सपोर्टिंग और स्मॉल रोल से लेकर लीड रोल तक की उनकी जर्नी काफी इंस्पायरिंग रही है. अरबाज खान के शो में नवाज ने फैंस के तमाम सवालों के जवाब दिए. नवाज जल्द ही सैक्रेड गेम्स के सीजन 2 में नजर आने वाले हैं.

वर्क फ्रंट की बात करें तो नवाजुद्दीन सिद्दीकी इस साल फिल्म ‘ठाकरे’ और ‘फोटोग्राफर’ में नजर आए थे. ठाकरे में नवाज ने बाल ठाकरे का किरदार निभाया था. अभिजीत पनसे ने इसे डायरेक्ट किया था. अब नवाजुद्दीन सिद्दीकी फिल्म ‘रात अकेली है’ में नजर आने वाले हैं.

Published by Yash Sharma on 02 May 2019

Related Articles

Latest Articles